Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 12, 2021 · 1 min read

आहिस्ता-आहिस्ता….

आहिस्ता-आहिस्ता….
“””””””””””””””””””””””””

आहिस्ता,आहिस्ता ही सही ,
गतिशील रहें नव चेतन से !
बनालें जीवन की राह अपनी ,
प्रगतिशील रहें अन्वेषण से !!

जीवन में सदा आगे बढ़ते रहने में ,
खुद का ही नज़रिया काम आता !
सूत्र भले हम पढ़ते हैं, किताबों में ,
पर सरजमीं पे उतरना ही काम आता !!

सूक्ष्म परख से ही समाज उन्नत होगा ,
इक समझ से ही समस्या का हल होगा ,
नेक सोच से सभी में आत्म-बल होगा ,
कड़ी मेहनत से ही सपनों का फल होगा ,
ईमान सच्चाई से ही भावना प्रबल होगा !!

इन सारी बातों का सभी जो ध्यान रखें ,
संग में त्याग, समर्पण व ईमान रखें ,
नियमित रूप से कड़ी श्रमदान रखें ,
मैं तो कहता हूॅं ऐसा सभी श्रीमान् रखें !!

ऐसा करके खत्म होंगी जीवन की दुष्वारियाॅं ,
जागृत भी होंगी देश दुनिया की समझदारियाॅं ,
कर लें जो हम सभी ऐसी ही सारी तैयारियाॅं ,
खिल उठेंगी जीवन के उपवन की सभी क्यारियाॅं !!
खिल उठेंगी जीवन के उपवन की सभी क्यारियाॅं !!

_ स्वरचित एवं मौलिक ।

© अजित कुमार कर्ण ।
__ किशनगंज ( बिहार )
दिनांक : १२/०६/२०२१.
“””””””””””””””””””””””””””””
????????

10 Likes · 761 Views
You may also like:
काव्य संग्रह
AJAY PRASAD
आरजू
Kanchan Khanna
Tell the Birds.
Taj Mohammad
बेजुबां जीव
Jyoti Khari
अपनी जिंदगी
Ashok Sundesha
विभाजन की विभीषिका
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
बेटी का संदेश
Anamika Singh
भली बातें
Dr. Sunita Singh
मजदूर की अंतर्व्यथा
Shyam Sundar Subramanian
हमारे शुभेक्षु पिता
Aditya Prakash
रास्ता
Anamika Singh
मोहब्बत ही आजकल कम हैं
Dr.sima
श्रंगार के वियोगी कवि श्री मुन्नू लाल शर्मा और उनकी...
Ravi Prakash
इश्क की खुशबू में ।
Taj Mohammad
मेरी आंखों का
Dr fauzia Naseem shad
✍️वो कहा है..?✍️
"अशांत" शेखर
चंद दोहे....
डॉ.सीमा अग्रवाल
बहुत अच्छे लगते ( गीतिका )
Dr. Sunita Singh
मैं डरती हूं।
Dr.sima
सरकारी नौकर
Dr Meenu Poonia
✍️मेरी शख़्सियत✍️
"अशांत" शेखर
रामपुर में दंत चिकित्सा की आधी सदी के पर्याय डॉ....
Ravi Prakash
आकार ले रही हूं।
Taj Mohammad
हवा के झोंको में जुल्फें बिखर जाती हैं
VINOD KUMAR CHAUHAN
मेरे पापा
Anamika Singh
रिमोट :: वोट
DESH RAJ
सुन री पवन।
Taj Mohammad
*आज बरसात है (मुक्तक)*
Ravi Prakash
"एक नज़्म लिख रहा हूँ"
Lohit Tamta
असीम जिंदगी...
मनोज कर्ण
Loading...