Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 Apr 2022 · 1 min read

आसान नहीं होता है पिता बन पाना

आसान नहीं होता है पिता बन पाना
मुश्किलों में होकर भी खुद को मजबूत दिखाना

स्वयं कष्ट सहे पर परिवार से सब छुपाये
परिवार कष्ट में हो तो एकदम बेचैन हो जाए

बेटी की शादी का इंतजाम करना हो
या महीने पर बैंक की उधार किश्त भरना हो

आता है तनाव दबाकर चुप चाप मुस्कुराना
आसान नहीं होता है पिता बन पाना……..

पत्नि से अनबन हो या बेटे से तकरार
रिश्ते निभाने हो, या दिन भर करना व्यापार

जानते हैं वो हर चीज में संतुलन बिठाना
आसान नहीं होता है पिता बन पाना…….

घर में किसी भी तरह की जरूरत हो
हँसकर हाँ कहते हैं, जब उदास हमारी सूरत हो

ये नहीं जताते कि कितना मुश्किल है पैसा कमाना
आसान नहीं होता है पिता बन पाना…..

खुद चाहे फटे कपड़ों में महीने निकाल देगे
और लेने कहो तो, बात को हँस कर टाल देगे

पर त्यौहार पर भूलते नहीं बच्चों को कुछ दिलाना
आसान नहीं होता है पिता बन पाना…..

दर्द तो उन्हें भी होता होगा सख्त होने का
मुखिया बनते बनते एहसास ए सदस्य खोने का

उनकी भी कुछ अपेक्षाएं होती होगी
पूरी न होने पर आंख रोती होगी

पर मजबूरी होती है उनकी सबसे आंसू छिपाना
आसान नहीं होता है पिता बन पाना……

माँ के किये की अहमियत तो सारा संसार समझता है
इसलिए दिल में प्यार और सम्मान रखता है

लेकिन क्या कभी पिता के कर्ज उतार पाएगा जमाना
आसान नहीं होता है पिता बन पाना……
~ Poetry By Satendra

Language: Hindi
Tag: कविता
8 Likes · 6 Comments · 213 Views
You may also like:
"खुद की तलाश"
Ajit Kumar "Karn"
चेहरा
शिव प्रताप लोधी
Atma & Paramatma
Shyam Sundar Subramanian
स्वास्थ्य
Saraswati Bajpai
जब पंखुड़ी गिरने लगे,
Pradyumna
सरस्वती आरती
संजीव शुक्ल 'सचिन'
✍️नीली जर्सी वालों ✍️
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
बालीवुड का बहिष्कार क्यों?
Shekhar Chandra Mitra
मेरे देश का तिरंगा
VINOD KUMAR CHAUHAN
दिल में मोहब्बत हीर से हीरे जैसी /लवकुश यादव "अज़ल"
लवकुश यादव "अज़ल"
ए. और. ये , पंचमाक्षर , अनुस्वार / अनुनासिक ,...
Subhash Singhai
कल खो जाएंगे हम
AMRESH KUMAR VERMA
*कार्यक्रम का निर्धारित समय (हास्य व्यंग्य)*
Ravi Prakash
प्रकृति
लक्ष्मी सिंह
मन की बात
Rashmi Sanjay
जो ज़िंदा है
AJAY PRASAD
ठोकर खाया हूँ
Anamika Singh
"प्यारे मोहन"
पंकज कुमार कर्ण
शुभ दीपावली
Dr Archana Gupta
मां शारदे
मनमोहन लाल गुप्ता 'अंजुम'
निर्णय
Dr fauzia Naseem shad
बरसात
Ashwani Kumar Jaiswal
ग़ज़ल /
ईश्वर दयाल गोस्वामी
श्रृंगार करें मां दुल्हन सी, ऐसा अप्रतिम अपरूप लिए
Er.Navaneet R Shandily
बेटियां।
Taj Mohammad
दिल मुझसे लगाकर,औरों से लगाया न करो
Ram Krishan Rastogi
सृष्टि रचयिता यंत्र अभियंता हो आप
Chaudhary Sonal
Writing Challenge- वादा (Promise)
Sahityapedia
दीपक
MSW Sunil SainiCENA
✍️एक कन्हैयालाल✍️
'अशांत' शेखर
Loading...