Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

🍀🌸🍀🌸आराधों नित सांय प्रात, मेरे सुतदेवकी🍀🌸🍀🌸

रंग की सुरेख देख,घटा है सुविशेष की,
विशेष में भी शेष बची आभा अशेष की,
अशेष की माया से सब रंग रहे जग में,
जग है या माया है बूझें हैं निरे सनकी,
सनकीपन दूर करो,प्रपञ्च छुड़ाने करो,
करो दहन इर्ष्या द्वेष, बैर होलिका की,
होलिका सुहानी मने, जीवन सुधारि बने,
आराधों नित सांय प्रात, मेरे सुतदेवकी।

©अभिषेक: पाराशर:

होली पर प्रकट हुआ था,यहाँ लिखना भूल गया।।

96 Views
You may also like:
*जिनको डायबिटीज (हास्य कुंडलिया)*
Ravi Prakash
कुछ अल्फाज़ खरे ना उतरते हैं।
Taj Mohammad
"रक्षाबंधन पर्व"
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
कंकाल
Harshvardhan "आवारा"
इश्क के आलावा भी।
Taj Mohammad
जिसके सीने में जिगर होता है।
Taj Mohammad
धूप में साया।
Taj Mohammad
ऐ जिन्दगी
Anamika Singh
जहाँ न पहुँचे रवि
विनोद सिल्ला
गुरु चरण
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
वक्त दर्पण दिखा दे तो अच्छा ही है।
Renuka Chauhan
सुहावना मौसम
AMRESH KUMAR VERMA
असीम जिंदगी...
मनोज कर्ण
संकुचित हूं स्वयं में
Dr fauzia Naseem shad
“मोह मोह”…….”ॐॐ”….
Piyush Goel
दर्द का
Dr fauzia Naseem shad
सरकारी नौकर
Dr Meenu Poonia
न्याय सम्राट अशोक का
AJAY AMITABH SUMAN
✍️बेवफ़ा मोहब्बत✍️
'अशांत' शेखर
धूल जिसकी चंदन है भाल पर सजाते हैं।
सत्य कुमार प्रेमी
किसी का जला मकान है।
Taj Mohammad
शत शत नमन उन सपूतों को
gurudeenverma198
घर की इज्ज़त।
Taj Mohammad
आब अमेरिकामे पढ़ता दिहाड़ी मजदूरक दुलरा, 2.5 करोड़ के भेटल...
श्रीहर्ष आचार्य
हम भी हैं महफ़िल में।
Taj Mohammad
खंडहर में अब खोज रहे ।
Buddha Prakash
कौन होता है कवि
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
कर्मगति
Shyam Sundar Subramanian
सावन ही जाने
शेख़ जाफ़र खान
पिता का मर्तबा।
Taj Mohammad
Loading...