Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jul 8, 2016 · 1 min read

आया सावन सपने बुनकर !!

कल कल झरने झूमे मधुवन ,
आया सावन सपने बुनकर !!

मोर, पपीहा, कोयल गाती ,
मीठी मीठी तान सुनाती !
सुनो सखी तुझसे कहती हूँ ,
पिया मिलन की याद सताती !!

हरा भरा उपवन में जाऊँ ,
बार बार देखूँ सहलाऊँ !

फूल बिखर जाते है खिलकर ,
कैसे मै उनको समझाऊँ !!

कास चले आते वो दौड़े ,
मेरे अंतरमन पढ़कर !

सीने से उनके लग जाती ,
राजा कहकर उन्हें बुलाती !
तरह तरह पकवान बनाकर ,
हाथों से मै उन्हें खिलाती !!

सारा जहां तुम्ही हो मेरे ,
कह देती उनसे मिलकर !
भाव विभोर हुआ हर्षित मन ,
गीत ग़ज़ल कविता लिखकर !!

1 Comment · 210 Views
You may also like:
✍️✍️व्यवस्था✍️✍️
"अशांत" शेखर
जिसको चुराया है उसने तुमसे
gurudeenverma198
तुलसी
AMRESH KUMAR VERMA
दो जून की रोटी।
Taj Mohammad
आंचल में मां के जिंदगी महफूज होती है
VINOD KUMAR CHAUHAN
बहुत अच्छा लगता है ..
ओनिका सेतिया 'अनु '
सच्चा प्यार
अनामिका सिंह
"सुकून की तलाश"
Ajit Kumar "Karn"
✍️डर काहे का..!✍️
"अशांत" शेखर
बुध्द गीत
Buddha Prakash
कहां चला अरे उड़ कर पंछी
VINOD KUMAR CHAUHAN
लिहाज़
पंकज कुमार "कर्ण"
✍️मनस्ताप✍️
"अशांत" शेखर
प्रिय सुनो!
Shailendra Aseem
इन्तिजार तुम करना।
Taj Mohammad
बाबूजी! आती याद
श्री रमण
पत्र का पत्रनामा
Manu Vashistha
अजीब कशमकश
Anjana Jain
✍️स्त्री : दोन बाजु✍️
"अशांत" शेखर
मुक्तक: युद्ध को विराम दो.!
Prabhudayal Raniwal
हर साल क्यों जलाए जाते हैं उत्तराखंड के जंगल ?
Deepak Kohli
कशमकश
अनामिका सिंह
बहुत कुछ अनकहा-सा रह गया है (कविता संग्रह)
Ravi Prakash
"खुद की तलाश"
Ajit Kumar "Karn"
काश हमारे पास भी होती ये दौलत।
Taj Mohammad
स्वर्गीय रईस रामपुरी और उनका काव्य-संग्रह एहसास
Ravi Prakash
✍️जगात कोटि कोटिचा मान असते✍️
"अशांत" शेखर
ज़ाफ़रानी
Anoop Sonsi
💐 गुजरती शाम के पैग़ाम💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
तल्खिय़ां
Anoop Sonsi
Loading...