Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Sep 24, 2016 · 1 min read

आतंकवाद

एक वाद ऐसा भी दुनिया में
जो मानवता संहारी है ,
इंसां की साँसों से ज्यादा
दानवता जिसको प्यारी है ।
वो आतंकवाद ही है जिसने
एक मजहब को बदनाम किया
बच्चों को भी नहीं देखा जिसने
विद्यालय में ही संहार किया ।
विकसित हो या विकासशील
धर्म निरपेक्ष हो या सापेक्ष
कोई देश न इसने छोड़ा है ,
अमरीका से लेकर भारत तक
सब पर हमला बोला है ।
कोई मजहब न ऐसा चाहेगा
आतंक फैलाकर दुनिया में
तुम उसका प्रसार करो ,
आसमान से धरती तक तुम
मानव का संहार करो ।
मानव तो आखिर मानव है
दुनिया उससे ही चलती है ,
आतंकवाद के भय से भला
क्या प्रगति भी रुक सकती है ?
कौन समझाए इस वाद को
करनी को अपनी बंद करो ,
जियो चैन से दुनिया में तुम
और चैन से सबको जीने दो ।

डॉ रीता
आया नगर,नई दिल्ली-47

194 Views
You may also like:
सच्चाई का मार्ग
AMRESH KUMAR VERMA
धूप में साया।
Taj Mohammad
पिता की अभिलाषा
मनोज कर्ण
वो खुश हैं अपने हाल में...!!
Ravi Malviya
श्रम पिता का समाया
शेख़ जाफ़र खान
जीवन संगीत
Shyam Sundar Subramanian
💐प्रेम की राह पर-23💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
शहीद की बहन और राखी
DESH RAJ
नया बाजार रिश्ते उधार (मंगनी) बिक रहे जन्मदिन है ।...
Dr.sima
जग के पिता
DESH RAJ
धन्य है पिता
Anil Kumar
मां सरस्वती
AMRESH KUMAR VERMA
“ मेरे राम ”
DESH RAJ
*सादा जीवन उच्च विचार के धनी कविवर रूप किशोर गुप्ता...
Ravi Prakash
💐ये मेरी आशिकी💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
मेरा सुकूं चैन ले गए।
Taj Mohammad
गुुल हो गुलशन हो
VINOD KUMAR CHAUHAN
मैं अश्क हूं।
Taj Mohammad
💐तर्जुमा💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
बेकार ही रंग लिए।
Taj Mohammad
✍️दरिया और समंदर✍️
"अशांत" शेखर
💐प्रेम की राह पर-57💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
अग्रवाल समाज और स्वाधीनता संग्राम( 1857 1947)
Ravi Prakash
जल जीवन - जल प्रलय
Rj Anand Prajapati
रात गहरी हो रही है
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
✍️मेरी तलाश...✍️
"अशांत" शेखर
அழியக்கூடிய மற்றும் அழியாத
Shyam Sundar Subramanian
मजदूरों का जीवन।
Anamika Singh
तन्हाई
Alok Saxena
कातिल बन गए है।
Taj Mohammad
Loading...