Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
23 Mar 2023 · 1 min read

आज हम याद करते

आज हम याद करते
उन वीर जवानों की,
जो खेले अपनी जान पर,
दे दी कुर्बानी भारत मां की,
आन बान और शान पर,
जो बढ़ते गए रण भूमि में,
इंकलाब ज़िंदाबाद की तान पर,
उड़ा दी नींद फिरंगियों की,
हमें फक्र है भगत,राजगुरु,सुखदेव महान पर।।
अनिल”अबीर”

Language: Hindi
103 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
Intakam hum bhi le sakte hai tujhse,
Intakam hum bhi le sakte hai tujhse,
Sakshi Tripathi
जिस के पास एक सच्चा दोस्त है
जिस के पास एक सच्चा दोस्त है
shabina. Naaz
दुनिया की आख़िरी उम्मीद हैं बुद्ध
दुनिया की आख़िरी उम्मीद हैं बुद्ध
Shekhar Chandra Mitra
आँखों की दुनिया
आँखों की दुनिया
Sidhartha Mishra
इंसान क्यों ऐसे इतना जहरीला हो गया है
इंसान क्यों ऐसे इतना जहरीला हो गया है
gurudeenverma198
कौन हो तुम
कौन हो तुम
DR ARUN KUMAR SHASTRI
शहरों से निकल के देखो एहसास हमें फिर होगा !ताजगी सुंदर हवा क
शहरों से निकल के देखो एहसास हमें फिर होगा !ताजगी सुंदर हवा क
DrLakshman Jha Parimal
छंदानुगामिनी( गीतिका संग्रह)
छंदानुगामिनी( गीतिका संग्रह)
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
एक नासूर ये गरीबी है
एक नासूर ये गरीबी है
Dr fauzia Naseem shad
परिंदों से कह दो।
परिंदों से कह दो।
Taj Mohammad
कि सब ठीक हो जायेगा
कि सब ठीक हो जायेगा
Vikram soni
संबंधों के नाम बता दूँ
संबंधों के नाम बता दूँ
सूर्यकांत द्विवेदी
परिचय- राजीव नामदेव राना लिधौरी
परिचय- राजीव नामदेव राना लिधौरी
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
■ आज का आभार
■ आज का आभार
*Author प्रणय प्रभात*
हो गई है भोर
हो गई है भोर
surenderpal vaidya
पिता का प्रेम
पिता का प्रेम
Seema gupta,Alwar
सवर्ण पितृसत्ता, सवर्ण सत्ता और धर्मसत्ता के विरोध के बिना क
सवर्ण पितृसत्ता, सवर्ण सत्ता और धर्मसत्ता के विरोध के बिना क
Dr MusafiR BaithA
जीवन और मृत्यु के मध्य, क्या उच्च ये सम्बन्ध है।
जीवन और मृत्यु के मध्य, क्या उच्च ये सम्बन्ध है।
Manisha Manjari
Ranjeet Kumar Shukla
Ranjeet Kumar Shukla
Ranjeet Kumar Shukla
रक्षाबंधन
रक्षाबंधन
Dr Archana Gupta
*अगर आपको चिंता दूर करनी है तो इसका सबसे आसान तरीका है कि लो
*अगर आपको चिंता दूर करनी है तो इसका सबसे आसान तरीका है कि लो
Shashi kala vyas
कहते हैं,
कहते हैं,
Dhriti Mishra
मन मोहन हे मुरली मनोहर !
मन मोहन हे मुरली मनोहर !
Saraswati Bajpai
*खाने के लाले पड़े, बच्चों की भरमार (कुंडलिया)*
*खाने के लाले पड़े, बच्चों की भरमार (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
✍️जिंदगी खुला मंचन है✍️
✍️जिंदगी खुला मंचन है✍️
'अशांत' शेखर
'धोखा'
'धोखा'
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
वो काली रात...!
वो काली रात...!
मनोज कर्ण
✍️ज़िंदगी का उसूल ✍️
✍️ज़िंदगी का उसूल ✍️
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
कहो‌ नाम
कहो‌ नाम
Varun Singh Gautam
✍️🌷तुम हक़ीक़त हो, अब फ़साना न बनो🌷✍️
✍️🌷तुम हक़ीक़त हो, अब फ़साना न बनो🌷✍️
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
Loading...