#29 Trending Author
Jan 17, 2022 · 1 min read

‘आओ हम बिछड़ जाएं’

‘आओ हम बिछुड़ जाएं’

आओ हम बिछड़ जाएं,
फिर पास कभी न आएं।
कभी मिले थे हम-तुम,
चलो ये भी भूल जाएं।
न तो है तेरी ख़ता,
न मेरा ही कुसूर है।
मिलने के बाद बिछुड़ना ही
मोहब्बत का दस्तूर है।
ये दस्तूर निभा जाएं,
आओ हम बिछड़ जाएं।

रहें चाहे जिस भी शहर,
रखेंगे याद शाम-ओ-सहर।
आकर ख्वाब में एक दूजे के,
दिल के फूल खिला जाएं।
आओ हम बिछड़ जाएं।

मोहब्बत की सुहानी सी ये वादियां,
जहाँ गूँजी थी कभी शहनाइयां।
यहीं मिलती थी परछाइयां,
और घुल जाती थी तनहाइयाँ।
आज इस दौलत को हम,
एक दूसरे पर लुटा जाएं।
आओ हम बिछड़ जाएं।

3 Likes · 3 Comments · 146 Views
You may also like:
पापा आप बहुत याद आते हो।
Taj Mohammad
अक्षय तृतीया
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
मेरे पिता है प्यारे पिता
Vishnu Prasad 'panchotiya'
एहसासों का समन्दर लिए बैठा हूं।
Taj Mohammad
मैं हूँ किसान।
Anamika Singh
चुनौती
AMRESH KUMAR VERMA
मकड़ी है कमाल
Buddha Prakash
💐प्रेम की राह पर-29💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
अब आगाज यहाँ
vishnushankartripathi7
मनस धरातल सरक गया है।
Saraswati Bajpai
🍀🌸🍀🌸आराधों नित सांय प्रात, मेरे सुतदेवकी🍀🌸🍀🌸
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
गैरों की क्या बात करें
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
तुम्हारे जन्मदिन पर
अंजनीत निज्जर
हसद
Alok Saxena
मिसाइल मैन
Anamika Singh
ये ख्वाब न होते तो क्या होता?
सिद्धार्थ गोरखपुरी
मैं चिर पीड़ा का गायक हूं
विमल शर्मा'विमल'
आपकी तरहां मैं भी
gurudeenverma198
हैं पिता, जिनकी धरा पर, पुत्र वह, धनवान जग में।।
संजीव शुक्ल 'सचिन'
दाता
निकेश कुमार ठाकुर
प्रकृति
Pt. Brajesh Kumar Nayak
चढ़ता पारा
जगदीश शर्मा सहज
सारे निशां मिटा देते हैं।
Taj Mohammad
Little sister
Buddha Prakash
दिल और गुलाब
Vikas Sharma'Shivaaya'
कौन है
Rakesh Pathak Kathara
#क्या_पता_मैं_शून्य_न_हो_जाऊं
D.k Math
!! ये पत्थर नहीं दिल है मेरा !!
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
मेरे पापा!
Anamika Singh
पिता के चरणों को नमन ।
Buddha Prakash
Loading...