Sep 30, 2016 · 1 min read

अमर रहे गौरव सेना का

अमर रहे गौरव सेना का
नित सम्मान बढ़ाती जाए ।
गर्व से शीश उठा सकें हम
विजय ध्वज फहराती जाए ।
जाकर दुश्मन की धरती पर
नाकों चने चबाती जाए ।
अमर रहे गौरव सेना का
नित सम्मान बढ़ाती जाए ।
निर्दोषों को जिसने मारा
बदला उससे लेकर माने ,
जनमानस रहा साथ तुम्हारे
हार न तुम बिलकुल माने ।
पिछला हिसाब चुकाने का
अवसर है अब पाए तुम,
छूट न जाए अरि हाथों से
अब ऐसी चालें चलते तुम ।
देश की माटी के कण कण से
आवाज़ यही एक अब आए,
जिसने घायल किया घाटी को
घाव उसके भी सूख न पाए ।
अमर रहे गौरव सेना का
नित सम्मान बढ़ाती जाए ।

डॉ रीता
29/09/2016
आया नगर,नई दिल्ली- 47

117 Views
You may also like:
अक्षय तृतीया की हार्दिक शुभकामनाएं
sheelasingh19544 Sheela Singh
तेरे संग...
Dr. Alpa H.
मेरा पेड़
उमेश बैरवा
ग़ज़ल
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
सार्थक शब्दों के निरर्थक अर्थ
Manisha Manjari
💐💐प्रेम की राह पर-17💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
तुम ख़्वाबों की बात करते हो।
Taj Mohammad
🌺🌻🌷तुम मिलोगे मुझे यह वादा करो🌺🌻🌷
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
# स्त्रियां ...
Chinta netam मन
एक जंग, गम के संग....
Aditya Prakash
An abeyance
Aditya Prakash
"ज़ुबान हिल न पाई"
अमित मिश्र
पिता का कंधा याद आता है।
Taj Mohammad
कितनी पीड़ा कितने भागीरथी
सूर्यकांत द्विवेदी
खुशियों की रंगोली
Saraswati Bajpai
मैं मेहनत हूँ
Anamika Singh
ब्रेकिंग न्यूज़
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
जिंदगी क्या है?
Ram Krishan Rastogi
【28】 *!* अखरेगी गैर - जिम्मेदारी *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
"बेटी के लिए उसके पिता क्या होते हैं सुनो"
rubichetanshukla रुबी चेतन शुक्ला
यह जिन्दगी है।
Taj Mohammad
【25】 *!* विकृत विचार *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
दिल और गुलाब
Vikas Sharma'Shivaaya'
पितृ वंदना
मनोज कर्ण
दिल की ख्वाहिशें।
Taj Mohammad
तुम...
Sapna K S
बिल्ली हारी
Jatashankar Prajapati
मनमीत मेरे
Dr.sima
प्रकृति
Pt. Brajesh Kumar Nayak
वृक्ष बोल उठे..!
Prabhudayal Raniwal
Loading...