Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
12 Feb 2023 · 1 min read

अभिमान

अभिमान
वर्षा ने कहा मैं बड़ी हूं, सूर्य ने कहा मैं बड़ा हूं।
बादल ने कहा मैं, पवन ने कहा मैं बड़ा हूं।
पर्वत बोला मैं बड़ा हूं और रावण अभिनामी बोला मैं बड़ा हूं जगत महान में।जब #अंगद# ने पैर रखा तो सब देखते रह गए इस जहान में।

1 Like · 82 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
काश ये मदर्स डे रोज आए ..
काश ये मदर्स डे रोज आए ..
ओनिका सेतिया 'अनु '
■ लघुकथा / अलार्म
■ लघुकथा / अलार्म
*Author प्रणय प्रभात*
त्याग करने वाला
त्याग करने वाला
Buddha Prakash
लहज़ा गुलाब सा है, बातें क़माल हैं
लहज़ा गुलाब सा है, बातें क़माल हैं
Dr. Rashmi Jha
मेरी कविताएं
मेरी कविताएं
Satish Srijan
कविता बाजार
कविता बाजार
साहित्य गौरव
*प्रभु जी हम पछताए (गीत)*
*प्रभु जी हम पछताए (गीत)*
Ravi Prakash
मातृ दिवस पर कुछ पंक्तियां
मातृ दिवस पर कुछ पंक्तियां
Ram Krishan Rastogi
2274.
2274.
Dr.Khedu Bharti
*अहंकार *
*अहंकार *
DR ARUN KUMAR SHASTRI
⚘️🌾गीता के प्रति मेरी समझ🌱🌷
⚘️🌾गीता के प्रति मेरी समझ🌱🌷
Ms.Ankit Halke jha
"बेटी और बेटा"
Ekta chitrangini
यादों का सफ़र...
यादों का सफ़र...
Santosh Soni
ताजा समाचार है?
ताजा समाचार है?
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
परवरिश
परवरिश
Dr. Pradeep Kumar Sharma
खुले लोकतंत्र में पशु तंत्र ही सबसे बड़ा हथियार है
खुले लोकतंत्र में पशु तंत्र ही सबसे बड़ा हथियार है
प्रेमदास वसु सुरेखा
रंग
रंग
Dr. Rajiv
जिस प्रकार प्रथ्वी का एक अंश अँधेरे में रहकर आँखें मूँदे हुए
जिस प्रकार प्रथ्वी का एक अंश अँधेरे में रहकर आँखें मूँदे हुए
Nav Lekhika
"मेरा गलत फैसला"
Dr Meenu Poonia
गीतिका
गीतिका
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
Hum bhi rang birange phoolo ki tarah hote
Hum bhi rang birange phoolo ki tarah hote
Sakshi Tripathi
ज़िंदा हो ,ज़िंदगी का कुछ तो सबूत दो।
ज़िंदा हो ,ज़िंदगी का कुछ तो सबूत दो।
Khem Kiran Saini
हाँ मैं नारी हूँ
हाँ मैं नारी हूँ
Surya Barman
चलो चले कुछ करते है...
चलो चले कुछ करते है...
AMRESH KUMAR VERMA
स्मृतियों का सफर (23)
स्मृतियों का सफर (23)
Seema gupta,Alwar
कविता
कविता
Vandana Namdev
कमाल करते हैं वो भी हमसे ये अनोखा रिश्ता जोड़ कर,
कमाल करते हैं वो भी हमसे ये अनोखा रिश्ता जोड़ कर,
Vishal babu (vishu)
वट सावित्री व्रत
वट सावित्री व्रत
Shashi kala vyas
सब छोड़कर अपने दिल की हिफाजत हम भी कर सकते है,
सब छोड़कर अपने दिल की हिफाजत हम भी कर सकते है,
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
दुनिया की आख़िरी उम्मीद हैं बुद्ध
दुनिया की आख़िरी उम्मीद हैं बुद्ध
Shekhar Chandra Mitra
Loading...