Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Nov 27, 2016 · 1 min read

अब कोई दिल को भायेगा कहाँ….

अब कोई दिल को भायेगा कहाँ
समंदर बहकर जायेगा कहाँ

तेज़ रफ़्तारी देखी तो लगा
आज ये बादल छायेगा कहाँ

पर हवाओं के ए दिल क़तर तो दूं
मगर बतला तू ठहरायेगा कहाँ

हर तरफ फैला है गुबार-ए-दिल
खो दिया जो कुछ पायेगा कहाँ

आग की लपटें उठती हर जगह
गीत उल्फ़त के गायेगा कहाँ

ख्वाहिशों ने भर डाला दिल मिरा
या खुदा अब तू आयेगा कहाँ

यार अब करले हिसाब तू यहीं
दिल मिरा धक्के खायेगा कहाँ

—सुरेश सांगवान’सरु’

2 Likes · 2 Comments · 123 Views
You may also like:
" मां" बच्चों की भाग्य विधाता
rubichetanshukla रुबी चेतन शुक्ला
🌺प्रेम की राह पर-58🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
खेसारी लाल बानी
Ranjeet Kumar
सम्भव कैसे मेल सखी...?
पंकज परिंदा
✍️आत्मपरीक्षण✍️
"अशांत" शेखर
बेजुवान मित्र
AMRESH KUMAR VERMA
दिल पूछता है हर तरफ ये खामोशी क्यों है
VINOD KUMAR CHAUHAN
कन्यादान क्यों और किसलिए [भाग३]
Anamika Singh
अल्फाज़ ए ताज भाग-3
Taj Mohammad
युद्ध आह्वान
Aditya Prakash
बुद्धिमान बनाम बुद्धिजीवी
Shivkumar Bilagrami
करते है प्यार कितना ,ये बता सकते नही हम
Ram Krishan Rastogi
हम भी हैं महफ़िल में।
Taj Mohammad
**अशुद्ध अछूत - नारी **
DR ARUN KUMAR SHASTRI
तुझे देखा तो...
Dr. Meenakshi Sharma
ऊपज
Mahender Singh Hans
डॉक्टर (मुक्तक)
Ravi Prakash
“ माँ गंगा ”
DESH RAJ
Destined To See A Totally Different Sight
Manisha Manjari
हृदय का सरोवर
सुनील कुमार
वृक्ष बोल उठे..!
Prabhudayal Raniwal
मंजिले जुस्तजू
Vikas Sharma'Shivaaya'
मौसम बदल रहा है
Anamika Singh
धूप में साया।
Taj Mohammad
आओ मिलकर वृक्ष लगाएँ
Utsav Kumar Aarya
भगवान सुनता क्यों नहीं ?
ओनिका सेतिया 'अनु '
पहचान लेना तुम।
Taj Mohammad
अभागीन ममता
ओनिका सेतिया 'अनु '
वक्त।
Taj Mohammad
जहर कहां से आया
Dr. Rajeev Jain
Loading...