Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
29 Jun 2022 · 2 min read

कोई तो जाके उसे मेरे दिल का हाल समझाये…!!

मैं उसका सिर अपने कांधे पर फिर से चाहता हूँ,
उसे मुस्कुराते हुए देख फिर से हंसना चाहता हूँ,
वो कहती है कि.. उसके दिल में कुछ भी नहीं मेरे लिए,
ये जानकर भी उसे अपनी ज़िन्दगी बनाना चाहता हूँ…!!

हाँ चाहता हूँ कि वो मेरे हर एक पल में रहे,
वो जानती हीं नहीं कि उसे मैं सबसे बेहतर मानता हूँ,
फिर उसका साथ मिले या ना मिले मुझे,
पर मेरा दिल उसकी धड़कन को बहुत करीब से पहचानता है…!!

हाँ माना कि तमाम कमियाँ हो मुझमे,
पर किसी के दिल को ठेस पंहुचाऊ, ऐसी दगाबाज़ी नहीं जानता हूँ,
मैंने सोचा… बहुत कुछ सोचने के बाद,
दर्द, दूरी और इंतजार , यही सब मिलेगा उसे… मेरे करीब आने के बाद,
वहीं है जो मुझे बेहतरीन तरीके से संभाल सकती है,
और ये बात मैं अच्छी तरह से जानता हूँ…!!

वो मेरी बनने के बाद भी अगर मेरी ना हो सकी,
तो खुद से नज़रे ना मिला पाऊंगा कभी,
अगर किसी और से वो इश्क़ करें और कद्र ना कर पाया वो कभी,
तो फिर कैसे भला दिल की बात समझाऊंगा उसे…
और वो कहती है कि उसे कुछ feel नहीं होता मेरे लिए,
ये बात कितनी चुभती है मुझे, ये मैं और मेरा खुदा हीं बस जानता है…!!

क्या करुँ कि उसे मुझपर यकीन हो जाये,
कैसे कहूँ कि उसके बिना मेरा दिल कही ना लग पाये,
मेरी धड़कने सिर्फ उसी का नाम गुनगुनाये,
अब कहीं मन नहीं लगता उसके बगैर,
यॉर… कोई तो जाके उसे मेरे दिल का हाल समझाये…!!
❤Love Ravi ❤

Language: Hindi
1 Like · 108 Views
You may also like:
कैसे तुम बिन
Dr. Nisha Mathur
Writing Challenge- अंतरिक्ष (Space)
Sahityapedia
नंदक वन में
Dr. Girish Chandra Agarwal
अचार का स्वाद
Buddha Prakash
गीत-2 ( स्वामी विवेकानंद जी)
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
✍️कसम खुदा की..!✍️
'अशांत' शेखर
कल भी होंगे हम तो अकेले
gurudeenverma198
तुझसे रूबरू होकर,
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
🚩अमर कोंच-इतिहास
Pt. Brajesh Kumar Nayak
■ आज का विचार
*Author प्रणय प्रभात*
शुभचिंतक, एक बहन
Dr.sima
अन्नदाता किसान कैसे हो
नूरफातिमा खातून नूरी
चौबोला छंद (बड़ा उल्लाला) एवं विधाएँ
Subhash Singhai
संसद को जाती सड़कें
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
अर्बन नक्सल
Shekhar Chandra Mitra
*अभिनंदन ईमानदार प्रष्ठों का हिंदुस्तान के (गीत)*
Ravi Prakash
Listen carefully.
Taj Mohammad
अपनी हर श्वास को
Dr fauzia Naseem shad
खींच मत अपनी ओर.....
डॉ.सीमा अग्रवाल
मन चाहे कुछ कहना....!
Kanchan Khanna
दिल चेहरा आईना
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
सर्द चांदनी रात
Shriyansh Gupta
दुविधा
Shyam Sundar Subramanian
गम को भी प्यार दो!
Anamika Singh
चाहत की बाते
Dr. Sunita Singh
अपनापन
विजय कुमार अग्रवाल
गीत
Shiva Awasthi
तम भरे मन में उजाला आज करके देख लेना!!
संजीव शुक्ल 'सचिन'
नारी
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
सुन लो बच्चों
लक्ष्मी सिंह
Loading...