Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
May 31, 2022 · 1 min read

कहो अब और क्या चाहें

कहो अब और क्या चाहें तेरे सिवा हम
क्यों किसी और को चाहें तेरे सिवा हम
कहो अब और क्या चाहें……………
तेरा साथ है तो हैं ये खुशियाँ जहाँ की
चाहत नहीं हमको किसी दूजे जहाँ की
नहीं रखते ख्वाहिश कोई तेरे सिवा हम
कहो अब और क्या चाहें……………
तेरा साथ है तो है संग ये सारी खुदाई
तुझसे ही तो है मेरी जिंदगी मुस्कुराई
रखते नहीं आरजू कोई तेरे सिवा हम
कहो अब और क्या चाहें…………..
तेरा साथ है तो नहीं डर हमको कोई
नहीं जिंदगी की है फिक्र हमको कोई
“विनोद”कहाँ जाएँ अब तेरे सिवा हम
कहो अब और क्या चाहें……………

3 Likes · 2 Comments · 138 Views
You may also like:
मै और तुम ( हास्य व्यंग )
Ram Krishan Rastogi
पंख कटे पांखी
सूर्यकांत द्विवेदी
✍️सब खुदा हो गये✍️
'अशांत' शेखर
हासिल करने की ललक होनी चाहिए
Anamika Singh
पिता की पीड़ा पर गीत
सूर्यकांत द्विवेदी
'स्मृतियों की ओट से'
Rashmi Sanjay
क्या होता है पिता
gurudeenverma198
सांसे चले अब तुमसे
Rj Anand Prajapati
गरीब की बारिश
AMRESH KUMAR VERMA
नहीं चाहता
सिद्धार्थ गोरखपुरी
उम्मीद
Harshvardhan "आवारा"
✍️सिर्फ मजार रहेगी✍️
'अशांत' शेखर
ज़मीं की गोद में
Dr fauzia Naseem shad
कैसे समझाऊँ तुझे...
Sapna K S
वाक्य से पोथी पढ़
शेख़ जाफ़र खान
वर्षा
Vijaykumar Gundal
मेरी प्यारी प्यारी बहिना
gurudeenverma198
"अबला नहीं मैं"
Dr Meenu Poonia
मिटटी
Vikas Sharma'Shivaaya'
नात،،सारी दुनिया के गमों से मुज्तरिब दिल हो गया।
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
✍️भरोसा✍️
'अशांत' शेखर
ख्वाब
Anamika Singh
खंडहर हुई यादें
VINOD KUMAR CHAUHAN
गुम होता अस्तित्व भाभी, दामाद, जीजा जी, पुत्र वधू का
Dr Meenu Poonia
अति का अंत
AMRESH KUMAR VERMA
हरिगीतिका
शेख़ जाफ़र खान
हौसला
Mahendra Rai
किसकी पीर सुने ? (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
बाबासाहेब 'अंबेडकर '
Buddha Prakash
क्षणिकायें-पर्यावरण चिंतन
राजेश 'ललित'
Loading...