Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

अब उजास आने दो

छा गया है अंधकार जग में,अब उजास आने दो
बड़ रही पीर हर दिल में, किरणें खुशी की छाने दो
डगमगाने लगा है विश्वास, आशा नई जगाने दो
मत करो मौत की बातें, जिंदगी के गीत गाने दो्

सुरेश कुमार चतुर्वेदी

3 Likes · 2 Comments · 124 Views
You may also like:
चुप रहने में।
Taj Mohammad
किसी और के खुदा बन गए है।
Taj Mohammad
कहते हैं न....
Varun Singh Gautam
हम पे सितम था।
Taj Mohammad
दोस्त हो तो ऐसा
Anamika Singh
तन्हाई के आलम में।
Taj Mohammad
हमारी नींदें
Dr fauzia Naseem shad
"फिर से चिपको"
पंकज कुमार "कर्ण"
क्या क्या कह दिया मैंने
gurudeenverma198
सोचो जो बेटी ना होती
लक्ष्मी सिंह
न झुकेगे हम
AMRESH KUMAR VERMA
ख़ामोश मुझे मेरा
Dr fauzia Naseem shad
अजी मोहब्बत है।
Taj Mohammad
जेब में सरकार लिए फिरते हैं
VINOD KUMAR CHAUHAN
खा लो पी लो सब यहीं रह जायेगा।
सत्य कुमार प्रेमी
कभी न करना उससे, उसकी नेमतों का गिला ।
Dr fauzia Naseem shad
ख़्वाहिश है तेरी
VINOD KUMAR CHAUHAN
आंखों में तुम मेरी सांसों में तुम हो
VINOD KUMAR CHAUHAN
बड़ी शिकायत रहती है।
Taj Mohammad
ऐ मेघ
सिद्धार्थ गोरखपुरी
दुआ
Alok Saxena
ਆਹਟ
विनोद सिल्ला
दर्द के रिश्ते
Vikas Sharma'Shivaaya'
मोहब्बत ही आजकल कम हैं
Dr.sima
अविरल
DR ARUN KUMAR SHASTRI
मां बाप की दुआओं का असर
Ram Krishan Rastogi
मरते वक्त उसने।
Taj Mohammad
स्वाबलंबन
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
मेरा सुकूं चैन ले गए।
Taj Mohammad
उमीद-ए-फ़स्ल का होना है ख़ून लानत है
Anis Shah
Loading...