Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

अब आ भी जाओ पापाजी

हुई कौन खता तुम रूठ गए यह बात बताओ पापा जी ।
तुम रूठ गए जग रूठ गया अब आ भी जाओ पापा जी ।।

होने ना दी नम आंख कभी मुस्कान मेरी तुम ही तो थे ।
नादान अनभिज्ञ बालक था मैं पहचान मेरी तुम ही तो थे ।।
तुम स्वाभिमान, तुम अलंकार, तुम ही तो थे सूत्रपात मेरे ।
थे मेरे जीवन का सबसे इक _अनमोल पड़ाव पापाजी ।।
हुई कौन खता तुम रूठ गए………..

जब जाना ही था तो चुपके से यह राज मुझे बतला देते ।
दुनियादारी की समझ जरा कुछ तो मुझ को सिखला देते ।।
हर वक्त व्यक्ति यहां अवसरवादी षड्यंत्र उपजता है मन में ।
दुनियादारी जग जेठ दुपहरी जिसमें जैसे पीपल की छांव पापाजी ।।
हुई कौन खता तुम रूठ गए……….

पापा मैंने तुमसे ही तो गिरकर के संभलना सीखा है ।
तरु थाम तर्जनी पापा मैंने तुमसे ही चलना सीखा है ।।
है घुटन बहुत अंतर्मन में टुकडे टुकड़े दिल टूट रहा ।
चुपके से मेरे ख्वाबों में आकर मुझे गले लगाओ पापा जी ।।
हुई कौन खता तुम रूठ गए………..

✍️संदीप सागर
कायमगंज जिला फर्रुखाबाद

26 Likes · 44 Comments · 453 Views
You may also like:
कायनात से दिल्लगी कर लो।
Taj Mohammad
हमको आजमानें की।
Taj Mohammad
तोड़ डालो ये परम्परा
VINOD KUMAR CHAUHAN
बेचैनियाँ फिर कभी
Dr fauzia Naseem shad
तरुण वह जो भाल पर लिख दे विजय।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
शिखर छुऊंगा एक दिन
AMRESH KUMAR VERMA
✍️बिच की दिवार✍️
'अशांत' शेखर
मंजिल दूर है
Varun Singh Gautam
बदनाम दिल बेचारा है
Taj Mohammad
✍️थोड़ी मजाकियां✍️
'अशांत' शेखर
धुँध
Rekha Drolia
🌺🌺प्रकृत्या: आदि:-मध्य:-अन्त: ईश्वरैव🌺🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
विश्वास
Harshvardhan "आवारा"
मिटाने लगें हैं लोग
Mahendra Narayan
यत्र नार्यस्तु पूज्यन्ते
Prakash Chandra
सफलता
Anamika Singh
कि राज दिल का उसको, कभी बता नहीं सके
gurudeenverma198
हो दर्दे दिल तो हाले दिल सुनाया भी नहीं जाता।
सत्य कुमार प्रेमी
तू नज़र में
Dr fauzia Naseem shad
भोजन
लक्ष्मी सिंह
जी हाँ, मैं
gurudeenverma198
साथ समय के चलना सीखो...
डॉ.सीमा अग्रवाल
मैं आजाद भारत बोल रहा हूँ
VINOD KUMAR CHAUHAN
💐सुरक्षा चक्र💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
" दृष्टिकोण "
DrLakshman Jha Parimal
#मजबूरी
D.k Math { ਧਨੇਸ਼ }
कितनी सहमी सी
Dr fauzia Naseem shad
मत पूछो कोई वो क्या थे
VINOD KUMAR CHAUHAN
हो गयी आज तो हद यादों की
Anis Shah
ख्वाहिश है बस इतना
Anamika Singh
Loading...