Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 13, 2021 · 1 min read

अधूरी

अधूरी है जब तक, वो ही जिंदगी है
पूरी हो गई, तो दास्तान बन जाएगी
अभी वक़्त है, जी ले जरा,
फिर क्या पता किस किस को सुनाई जाएगी
अभी रोशनी है, नजरे है, नजारे भी है
झुर्रीदार आंखों से तस्वीर खुद की भी कहाँ जानी जाएगी

1 Like · 183 Views
You may also like:
✍️आखरी कोशिश✍️
"अशांत" शेखर
पिता मेरे /
ईश्वर दयाल गोस्वामी
पिता
Neha Sharma
फिर झूम के आया सावन
Vishnu Prasad 'panchotiya'
एक मजदूर
Rashmi Sanjay
सूरज की पहली किरण
DESH RAJ
पत्र की स्मृति में
Rashmi Sanjay
"क़तरा"
Ajit Kumar "Karn"
मन चाहे कुछ कहना....!
Kanchan Khanna
बचे जो अरमां तुम्हारे दिल में
Ram Krishan Rastogi
पीला पड़ा लाल तरबूज़ / (गर्मी का गीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
💐प्रेम की राह पर-57💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
*सभी को चाँद है प्यारा ( मुक्तक)*
Ravi Prakash
कर लो कोशिशें।
Taj Mohammad
ये ख्वाब न होते तो क्या होता?
सिद्धार्थ गोरखपुरी
ये दिल
Dr fauzia Naseem shad
✍️अग्निपथ...अग्निपथ...✍️
"अशांत" शेखर
जाने कैसा दिन लेकर यह आया है परिवर्तन
आकाश महेशपुरी
*मरने का हर मन में डर है (गीतिका)*
Ravi Prakash
सरहद पर रहने वाले जवान के पत्नी का पत्र
Anamika Singh
*"पिता"*
Shashi kala vyas
सिरत को सजाओं
Anamika Singh
✍️परछाईया✍️
"अशांत" शेखर
मुझको मत दोष तुम देना
gurudeenverma198
दिल ज़रूरी है
Dr fauzia Naseem shad
  " परिवर्तन "
Dr Meenu Poonia
✍️नशा और शौक✍️
"अशांत" शेखर
जीवन उर्जा ईश्वर का वरदान है।
Anamika Singh
आया जो,वो आएगा
AMRESH KUMAR VERMA
जेब में सरकार लिए फिरते हैं
VINOD KUMAR CHAUHAN
Loading...