Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
May 15, 2022 · 1 min read

अधजल गगरी छलकत जाए

अहंकार में आप समाए।
दीवा ज्ञान बहुत इतरावे।

दो के मध्य में तीसरा आवे।
फटे में अपनी टांग अड़ावे।

बिन मांगे ही राय सुझावे।
ना मानो तो मुंह फुलावे।

औरों को नासमझ बतावे।
केवल अपनी हांके जावे।

ना किसी के मन को भावे।
फिर भी अपनी छाप जमावे।

मीठे कुप की जगत बैठकर।
अधजल गगरी छलकत जावे।

-विष्णु प्रसाद ‘पाँचोटिया’
्््््््््््््््््््््््््््््््््््््््््््

2 Likes · 2 Comments · 88 Views
You may also like:
सबको हार्दिक शुभकामनाएं !
Prabhudayal Raniwal
माँ
Dr Archana Gupta
लोकसभा की दर्शक-दीर्घा में एक दिन: 8 जुलाई 1977
Ravi Prakash
नियमित दिनचर्या
AMRESH KUMAR VERMA
शिखर छुऊंगा एक दिन
AMRESH KUMAR VERMA
गुनहगार बन गए है।
Taj Mohammad
सुबह आंख लग गई
Ashwani Kumar Jaiswal
गम हो या हो खुशी।
Taj Mohammad
जो... तुम मुझ संग प्रीत करों...
Dr. Alpa H. Amin
ममता की फुलवारी माँ हमारी
Dr. Alpa H. Amin
कुछ लोग यूँ ही बदनाम नहीं होते...
मनोज कर्ण
मैं भारत हूँ
Dr. Sunita Singh
उड़ चले नीले गगन में।
Taj Mohammad
उस निरोगी का रोग
gurudeenverma198
अजब कहानी है।
Taj Mohammad
*सारथी बनकर केशव आओ (भक्ति-गीत)*
Ravi Prakash
सावन
Arjun Chauhan
तमन्नाओं का संसार
DESH RAJ
✍️टिकमार्क✍️
"अशांत" शेखर
सुंदर सृष्टि है पिता।
Taj Mohammad
अज़ल की हर एक सांस जैसे गंगा का पानी है./लवकुश...
लवकुश यादव "अज़ल"
कोई तो हद होगी।
Taj Mohammad
उन बिन, अँखियों से टपका जल।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
मानव स्वरूपे ईश्वर का अवतार " पिता "  
Dr. Alpa H. Amin
लाडली की पुकार!
Dr. Arti 'Lokesh' Goel
दर्द।
Taj Mohammad
कायनात के जर्रे जर्रे में।
Taj Mohammad
"मुश्किल वक़्त और दोस्त"
Lohit Tamta
परीक्षा एक उत्सव
Sunil Chaurasia 'Sawan'
अफसोस-कर्मण्य
Shyam Pandey
Loading...