Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 May 2023 · 2 min read

अटल-अवलोकन

अटल अवलोकन
भारत के प्यारे
कुंवारे प्रधानमंत्री
आपकी नीतियों पर
देश करेगा गर्व और अभिमान
आपका भला करें भगवान
हे कमलनाथ!
आप शांति के पुजारी हैं
आपसे न राग है न द्वेष है
पर एक आम नागरिक की तरफ से
आपको यह संदेश है
आप हिंदू धर्म को मानने में सख्त हैं
निश्चय ही राम के बड़े भक्त हैं
आपको धर्म ग्रंथों की बातों को
आजमाना चाहिए
शादी पश्चात पुत्र रत्न प्राप्त कर
पितृऋण से उबार पाना चाहिए
आपने कुर्सी पाने से पहले
हमेशा स्वदेशी का नारा लगाया
जरा सोचिए
क्या आप के शासन के पहले भी
कभी इतना सामान विदेशी आया
केरल की बाढ़ हो
या गुजरात का भूकंप हो
पाकिस्तानी नागों की फुफकार हो
या अफगानी बिच्छुओं का डंक हो
हमारे जीवन की
इतनी दु:खद कोई कहानी नहीं है
फिर भी आपके शासन का
कोई सानी नहीं है
जब आपने पाकिस्तान से
भाईचारा बढ़ाने की बात चलाई
तो पाकिस्तानी घुसपैठिए
पूरे कारगिल क्षेत्र में आ गए
मानवता की सफेद आंचल में
काली स्याही से छा गए
उसका खामियाजा
हमारे सैनिकों ने
अपनी जान देकर चुकाई
उसके बाद भी आपने नम्रता ही दिखलाई
दिन प्रतिदिन करते रहे शांति का प्रयास
लात के देवताओं से बात की आस
आपके सहयोगी
देश में अस्थिरता के बीज बोने लगे हैं
राम का राज्य और
लक्ष्मण बदनाम होने लगे हैं
जब मैंने सब गतिविधियों पर नजर डाला
तो यही निष्कर्ष निकाला
कि आपके दिल को जिसने भी दुखाया
चैन नहीं पाया
जब आप गए कांधार
आपके दिल पर ठेस पहुंचा भारी
समय ने उन्हें बख्शा नहीं
शुरू हो गई बमबारी
आपकी लाहौर बस सेवा
अघोषित युद्ध लाई
विदेश में समय बिता रहे हैं
नवाज शरीफ भाई
आप अमेरिका गए
ना जाने क्या खोए क्या पाए
शायद निराश होकर आए
इसलिए वह भी मुसीबत में घिरा
पेंटागन क्षतिग्रस्त हुआ
वर्ल्ड ट्रेड सेंटर गिरा
नेपाल नरेश से
जाने कैसा मिला मान
साफ ही हो गया पूरा खानदान
आप भीष्म पितामह है
बोल नहीं पाते हैं
किंतु अनीति करने वाले
रसातल में जाते हैं
आप पार्टी में आप सर्वोत्तम थे
दुनिया ने जाना
पर कितने भाजपाइयों ने
आप को माना
परिणाम यह कि
पलट गया पासा
रह गई पाई
आगे पहाड़ पीछे खाई
आपके कुर्सी से हटते ही
जो कल तक चुप थे
मुँह खोलने लगे हैं
आप मनहूस शासक थे
बोलने लगे हैं
लेकिन यह गलत है
आपके निजी जीवन पर
उंगली उठाना होगी बेमानी
ऐसा वही कह सकता है
जिसमें ना शर्म होगा
न हया होगी
और ना होगा पानी
हम तो आपसे यही कहेंगे
आप भ्रमण कीजिए
दुश्मनों तक जाइए
हाथ मिलाइए
कुछ लेकर ही आएँगे
और यदि नहीं ला सके
तो इतिहास गवाह है
ईश्वर के नाम पर
दुश्मन रह नहीं पाएँगे।

1 Like · 141 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Follow our official WhatsApp Channel to get all the exciting updates about our writing competitions, latest published books, author interviews and much more, directly on your phone.
You may also like:
#बह_रहा_पछुआ_प्रबल, #अब_मंद_पुरवाई!
#बह_रहा_पछुआ_प्रबल, #अब_मंद_पुरवाई!
संजीव शुक्ल 'सचिन'
!!! हार नहीं मान लेना है !!!
!!! हार नहीं मान लेना है !!!
जगदीश लववंशी
एक तेरी चाह के सिवा
एक तेरी चाह के सिवा
Dr fauzia Naseem shad
प्राकृतिक के प्रति अपने कर्तव्य को,
प्राकृतिक के प्रति अपने कर्तव्य को,
goutam shaw
वाह रे जमाना
वाह रे जमाना
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
मैं हिन्दी हिंदुस्तान की
मैं हिन्दी हिंदुस्तान की
gurudeenverma198
आसमां में चांद अकेला है सितारों के बीच
आसमां में चांद अकेला है सितारों के बीच
ठाकुर प्रतापसिंह "राणाजी"
फूल खुशबू देते है _
फूल खुशबू देते है _
Rajesh vyas
*पहचानो अपना हुनर, अपनी प्रतिभा खास (कुंडलिया)*
*पहचानो अपना हुनर, अपनी प्रतिभा खास (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
अगर प्रफुल्ल पटेल
अगर प्रफुल्ल पटेल
*Author प्रणय प्रभात*
"तवा"
Dr. Kishan tandon kranti
चाहत की बाते
चाहत की बाते
Dr. Sunita Singh
डगर कठिन हो बेशक मैं तो कदम कदम मुस्काता हूं
डगर कठिन हो बेशक मैं तो कदम कदम मुस्काता हूं
VINOD KUMAR CHAUHAN
बेटियाँ
बेटियाँ
Neha
An Analysis of All Discovery & Development
An Analysis of All Discovery & Development
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
तिरंगा मेरी जान
तिरंगा मेरी जान
AMRESH KUMAR VERMA
“ हृदयक गप्प ”
“ हृदयक गप्प ”
DrLakshman Jha Parimal
जयति जयति जय , जय जगदम्बे
जयति जयति जय , जय जगदम्बे
Shivkumar Bilagrami
हमको पास बुलाती है।
हमको पास बुलाती है।
Taj Mohammad
जीवन के बुझे हुए चिराग़...!!!
जीवन के बुझे हुए चिराग़...!!!
Jyoti Khari
हाथ माखन होठ बंशी से सजाया आपने।
हाथ माखन होठ बंशी से सजाया आपने।
लक्ष्मी सिंह
हम गीत ख़ुशी के गाएंगे
हम गीत ख़ुशी के गाएंगे
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
The Huge Mountain!
The Huge Mountain!
Buddha Prakash
स्कूल कॉलेज
स्कूल कॉलेज
RAKESH RAKESH
*......कब तक..... **
*......कब तक..... **
Naushaba Suriya
समय करेगा निर्णय
समय करेगा निर्णय
Shekhar Chandra Mitra
आनन्द की सरिता में तैरे,
आनन्द की सरिता में तैरे,
Satish Srijan
मेरी माँ
मेरी माँ
Pooja Singh
*भगवान के नाम पर*
*भगवान के नाम पर*
Dushyant Kumar
जब वो कृष्णा मेरे मन की आवाज़ बन जाता है।
जब वो कृष्णा मेरे मन की आवाज़ बन जाता है।
Manisha Manjari
Loading...