Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 16, 2022 · 1 min read

कैसी भी हो शराब।

कैसी भी हो शराब धोखा देती है।
हमेशा ही चढ़ कर उतर जाती है।।

✍️✍️ ताज मोहम्मद ✍️✍️

1 Like · 4 Comments · 101 Views
You may also like:
हमने हंसना चाहा।
Taj Mohammad
" लिखने की कला "
DrLakshman Jha Parimal
बोलती आँखे...
मनोज कर्ण
हैं सितारे खूब, सूरज दूसरा उगता नहीं।
सत्य कुमार प्रेमी
इंद्रधनुष
Arjun Chauhan
बहुत हुशियार हो गए है लोग
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
जीत-हार में भेद ना,
Pt. Brajesh Kumar Nayak
विषय:सूर्योपासना
Vikas Sharma'Shivaaya'
कहवां जाइं
Dhirendra Panchal
अब मै भी जीने लगी हूँ
Anamika Singh
माँ +माँ = मामा
Mahendra Rai
बदल कर टोपियां अपनी, कहीं भी पहुंच जाते हैं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
द माउंट मैन: दशरथ मांझी
Jyoti Khari
पिता का प्यार
pradeep nagarwal
नात،،सारी दुनिया के गमों से मुज्तरिब दिल हो गया।
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
अलबेले लम्हें, दोस्तों के संग में......
Aditya Prakash
परिणय
मनोज कर्ण
हम जलील हो गए।
Taj Mohammad
मां का आंचल
VINOD KUMAR CHAUHAN
अद्भभुत है स्व की यात्रा
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
जो बीत गई।
Taj Mohammad
तुझसे रूबरू होकर,
Vaishnavi Gupta
ख्वाब रंगीला कोई बुना ही नहीं ।
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
"अरे ओ मानव"
Dr Meenu Poonia
जिंदगी या मौत? आपको क्या चाहिए?
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
अम्मा जी
Rashmi Sanjay
✍️नफरत की पाठशाला✍️
'अशांत' शेखर
समझे ये हमको
Dr fauzia Naseem shad
भारत की जमीं
DESH RAJ
एक मुठी सरसो पीट पीट बरसो
आकाश महेशपुरी
Loading...