Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
10 Nov 2021 · 1 min read

अजीब मनोस्थिति “

देख ले तेरे संसार की हालत
आज कैसी हो गई हे भगवान !
अपने दुःख से दुःखी नहीं वह
दुःखी दूजे के सुख से है इंसान,
स्वयं की परिस्थिति संभलती नहीं
लेकिन पड़ोसी का रखता है ध्यान
अपना परिवार चाहे भाड़ में जाए
हाथ में रखता रिश्तेदारों की कमान,
सारी खबर चाहिए पड़ोसियों की
चाहे हो बूढ़ा चाहे वह हो जवान
नया करने का कभी सोचता ही नहीं
दूसरों का पीछा कर ही चलाएगा दुकान,
इसलिए खुश नहीं रह सकता वह
चाहे आए त्योहार चाहे बने पकवान
ध्यान तो सारा खुद से हटा लिया
अब चाहे कोई आता रहे मेहमान,
दिखावे की होड़ में निज औकात भुला
तभी तो बड़े बड़े हो गए हैं अरमान
मानसिक शांति से अब हुआ है अलगाव
जिंदगी को बना लिया कलयुग का गुलाम।
Dr.Meenu Poonia jaipur

Language: Hindi
Tag: कविता
4 Likes · 1 Comment · 370 Views
You may also like:
“अखने त आहाँ मित्र बनलहूँ “
DrLakshman Jha Parimal
👌🥀🌺आप में कोई जादू तो है🌺🥀👌
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
जितना सताना हो,सता लो हमे तुम
Ram Krishan Rastogi
भारतीय महीलाओं का महापर्व हरितालिका तीज है।
आचार्य श्रीराम पाण्डेय
मेरे एहसास का
Dr fauzia Naseem shad
🇮🇳 वतन पर जां फ़िदा करना 🇮🇳
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
सीमा पर तनाव
Shekhar Chandra Mitra
सार संभार
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
✍️हर लड़की के दिल में ✍️
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
हाँ, यह विदाई बहुत अच्छी है
gurudeenverma198
Writing Challenge- जिम्मेदारी (Responsibility)
Sahityapedia
सुविचार
Godambari Negi
" हालात ए इश्क़ " ( चंद अश'आर )
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
एक जिंदगी एक है जीवन
विजय कुमार अग्रवाल
किंकर्तव्यविमुढ़
पूनम झा 'प्रथमा'
प्रेरणा
Shiv kumar Barman
कहमुकरी
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
ओढ़ो गरम रजाई (बाल कविता )
Ravi Prakash
"पति परमेश्वर "
Dr Meenu Poonia
कल्पना ही कविता का सृजन है...
'अशांत' शेखर
"अटपटा प्रावधान"
पंकज कुमार कर्ण
"हे वसन्त, है अभिनन्दन.."
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
जीवन का गीत
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
■ सर्वोत्तम उपहार / श्री रामचरित मानस
*Author प्रणय प्रभात*
जीवनमंथन
Shyam Sundar Subramanian
फिर तुम उड़ न पाओगे
Anamika Singh
कण कण तिरंगा हो, जनगण तिरंगा हो
डी. के. निवातिया
कातिल बन गए है।
Taj Mohammad
आंखों की लाली
शिव प्रताप लोधी
हास्य दोहा अष्टमी
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
Loading...