Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
19 Feb 2022 · 1 min read

अजनबी जैसा

अजनबी जैसा हम से मिलता है ।
दर्द आंखों से पर पिघलता है ।।

टूटता है यकीन खुद पर से ।
कोई मौसम सा जब बदलता है ।।

जान जाती है उसके जाने से ।
ख़्वाहिशों का भी दम निकलता है ।।

कोशिशों पर यकीं करो अपनी ।
मुश्किलों का भी हल निकलता है ।

कैसे मंज़िल को अपनी पाये वो ।
रास्ते जो बदल के चलता है ।।

अजनबी जैसा हमसे मिलता ।
दर्द आंखों से फिर पिघलता है ।।

डाॅ फौज़िया नसीम शाद

9 Likes · 220 Views
You may also like:
🌾☘️वनस्पति जीवाश्म☘️🌾
🌾☘️वनस्पति जीवाश्म☘️🌾
Ankit Halke jha
कबीर का पैगाम
कबीर का पैगाम
Shekhar Chandra Mitra
किसी को नीचा दिखाना , किसी पर हावी होना ,  किसी को नुकसान पह
किसी को नीचा दिखाना , किसी पर हावी होना ,...
Seema Verma
★आज का विचार★
★आज का विचार★
*Author प्रणय प्रभात*
ज़िक्र तेरा लबों पे क्या आया
ज़िक्र तेरा लबों पे क्या आया
Dr fauzia Naseem shad
जिसकी फितरत वक़्त ने, बदल दी थी कभी, वो हौसला अब क़िस्मत, से टकराने लगा है।
जिसकी फितरत वक़्त ने, बदल दी थी कभी, वो हौसला...
Manisha Manjari
✍️मातारानी ✍️
✍️मातारानी ✍️
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
नजर
नजर
मनमोहन लाल गुप्ता 'अंजुम'
मुकम्मल हुआ हूं आज।
मुकम्मल हुआ हूं आज।
Taj Mohammad
शाकाहार बनाम धर्म
शाकाहार बनाम धर्म
मनोज कर्ण
ग़ज़ल
ग़ज़ल
Mahendra Narayan
कितने मादक ये जलधर हैं
कितने मादक ये जलधर हैं
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
हार हूँ
हार हूँ
Satish Srijan
तलाश
तलाश
Seema 'Tu hai na'
यह आखिरी है दफा
यह आखिरी है दफा
gurudeenverma198
बाल कविता: तितली चली विद्यालय
बाल कविता: तितली चली विद्यालय
Rajesh Kumar Arjun
तथागत प्रीत तुम्हारी है
तथागत प्रीत तुम्हारी है
Buddha Prakash
जिंदगी तुमसे जीना सीखा
जिंदगी तुमसे जीना सीखा
Abhishek Pandey Abhi
एक दिन
एक दिन
Ranjana Verma
ऋतुराज वसंत (कुंडलिया)*
ऋतुराज वसंत (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
उसको भेजा हुआ खत
उसको भेजा हुआ खत
कवि दीपक बवेजा
Writing Challenge- रहस्य (Mystery)
Writing Challenge- रहस्य (Mystery)
Sahityapedia
"एक नाविक सा"
Dr. Kishan tandon kranti
मुक्तामणि, मुक्तामुक्तक
मुक्तामणि, मुक्तामुक्तक
muktatripathi75@yahoo.com
बहुत ऊँची नही होती है उड़ान दूसरों के आसमाँ की
बहुत ऊँची नही होती है उड़ान दूसरों के आसमाँ की
'अशांत' शेखर
होली के कुण्डलिया
होली के कुण्डलिया
Vijay kumar Pandey
नववर्ष 2023
नववर्ष 2023
Saraswati Bajpai
छुपा लो मुझे तेरे दिल में
छुपा लो मुझे तेरे दिल में
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
💐प्रेम कौतुक-396💐
💐प्रेम कौतुक-396💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
छुपकर
छुपकर
Dr.sima
Loading...