Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 13, 2022 · 2 min read

अखंड भारत की गौरव गाथा।

आओ सुनाता हूं मैं तुमको,,,
संक्षिप्त रूप में अखंड भारत की गौरव गाथा!!!
जानकर आश्चर्य में पड़ जाओगे,,,
जो थी इसकी भौगोलिक विशालता!!!

चौबीस बार सहा है इसने दंश,,,
अपने खंड खंड होने का!!!
सम्पूर्ण विश्व में फैली थी,,,
इसकी कण कण की सुन्दरता!!!

इसके उत्तर में थी,,,
हिमालय पर्वत की व्यापकता!!!
तो दक्षिण में स्थित था,,
हिंद महासागर गहरा!!!

पूर्व में था कैलाश पर्वत मानसरोवर,,,
जो था शिव शंकर शभूं का!!!
जिसका विस्तार जाता था,,,
जो है अब आज का इंडोनेशिया!!!

पश्चिम में स्थित था,,,
तब का प्रदेश हिमालय आर्यान!!!
वर्तमान में जो कहलाता है,,,
नाम से ईरान!!!

युगों युगों से चली आ रही है,,,
इसकी सनातन संस्कृति और सभ्यता!!!
अन्यत्र विश्व में ना मिलती है,,,
वेद पुराणों के ज्ञान की शिक्षा!!!

सनातन धर्म की मौलिकता थी,,,
सर्वपरी था हिंदुओं का सम्मान!!!
प्रत्येक ह्रदय में वास करते थे,,,
पुरोषत्तम प्रभु श्री राम!!!

सम्पूर्ण विश्व नतमस्तक था,,,
रामराज में सबका था सम्मान!!!
बाहरी अक्रांताओ ने बहुत प्रयत्न किया,,,
परन्तु नष्ट ना कर पाए इसकी पहचान!!!

वट वृक्ष के जैसा था,,,
अखंड भारत का विस्तार!!!
सोने की चिड़िया कहता था,,,
इसको समस्त संसार!!!

कितनी शाखाओं ने अलग होकर,,,
ले लिया स्वयं छोटे वृक्ष का आकार!!!
विभिन्नताएं लिए अखंडता में,,,
एकता का लक्ष्य ना हो सका साकार!!!

इसकी कोमलता पर,,,
धूर्त बाहरी अक्रांताओं ने आक्रमण किया बारमबार!!!
उनमें से कुछ नाम है ये,,,
यूनानी,यमन,फेंच,शक,डच,अंग्रेज और कुषाण!!!

गंधार,कंबोज के हिस्से बन गए,,,
बलूचिस्तान और अफगानिस्तान!!!
सिंध बन गया पाकिस्तान,,,
पंजाब से अलग हो कर आया मुल्तान!!!

देवघर से परिवर्तित होकर,,,
अस्तित्व में आया नेपाल!!!
जनकपुर मिथिला सीता मैया का,,,
लुंबनी भगवान बुद्ध के जहां थे जन्म स्थान!!!

ब्रह्म देश बर्मा होकर,,,
बन गया म्यांमार!!!
तिब्बत था देवलोक जहां पर मनु के नेतृत्व में,,,
मानव देव रूप में प्रथम पीढ़ी ने लिया था अवतार!!!

श्री लंका का शिव शंकर ने निर्माण कर,,,
इसको सौंपा था कुबेर को!!!
कुबेर से आई रावण के पास,,,
जिसपे विजय प्राप्ति हुई प्रभु श्री राम को!!!

मलेशिया, इंडोनेशिया, थाईलैंड, वियतनाम और कंबोडिया सब थे मलय प्रायद्वीप के जनपद,,,
सिक्किम और भूटान पर अखंड भारत का था आधिपत्य!!!

सिंहपुरा बना सिंगापुर चम्पा बन गया वियतनाम,,,
श्याम देश से जाना जाता था थाइलैंड का नाम!!!
कहने को शब्द कम पड़ेगें,,,
पूर्ण ना होगा अखंड भारत का व्याख्यान!!!

ताज मोहम्मद
लखनऊ

3 Likes · 151 Views
You may also like:
धर्म बला है...?
मनोज कर्ण
बुरा तो ना मानोगी।
Taj Mohammad
✍️✍️गांधी✍️✍️
'अशांत' शेखर
कुंडलियां छंद (7)आया मौसम
Pakhi Jain
दिल तुम्हें
Dr fauzia Naseem shad
बाबा भैरण के जनैत छी ?
श्रीहर्ष आचार्य
इस तरह से
Dr fauzia Naseem shad
सवालों के घेरे में देश का भविष्य
Dr fauzia Naseem shad
I feel h
Swami Ganganiya
✍️आखरी सफर पे हूँ...✍️
'अशांत' शेखर
In my Life.
Taj Mohammad
पैसों की भूख
AMRESH KUMAR VERMA
*बाबा तीजो है (बाल कविता)*
Ravi Prakash
यश तुम्हारा भी होगा
Rj Anand Prajapati
खुदा के आलावा।
Taj Mohammad
कुंडलिया छंद
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
वह माँ नही हो सकती
Anamika Singh
चौकड़िया छंद / ईसुरी छंद , विधान उदाहरण सहित ,...
Subhash Singhai
*झाँसी की क्षत्राणी । (झाँसी की वीरांगना/वीरनारी)
Pt. Brajesh Kumar Nayak
अश्रुपात्र A glass of years भाग 8
Dr. Meenakshi Sharma
पिता
Shankar J aanjna
✍️भरोसा✍️
'अशांत' शेखर
हौसला
Mahendra Rai
अत्याचार
AMRESH KUMAR VERMA
1-साहित्यकार पं बृजेश कुमार नायक का परिचय
Pt. Brajesh Kumar Nayak
पितृ वंदना
संजीव शुक्ल 'सचिन'
🌷🍀प्रेम की राह पर-49🍀🌷
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
ईद मनाते हैं।
Taj Mohammad
'The Republic Day '- in patriotic way !
Buddha Prakash
सत् हंसवाहनी वर दे,
Pt. Brajesh Kumar Nayak
Loading...