Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
28 Jun 2022 · 1 min read

अंदाज़ ही निराला है।

उसके शेर ओ शायरी का अंदाज ही निराला है।
उसका हर मौजू पर लिखा बन गया रिसाला है।।

✍️✍️ ताज मोहम्मद ✍️✍️

Language: Hindi
Tag: शेर
1 Like · 2 Comments · 90 Views
You may also like:
'ण' माने कुच्छ नहीं
Satish Srijan
हमरा अप्पन निज धाम चाही...
मनोज कर्ण
Advice
Shyam Sundar Subramanian
■ दोगले विधान
*Author प्रणय प्रभात*
" मुस्कराना सीख लो "
भगवती प्रसाद व्यास " नीरद "
यादें
Anamika Singh
सदियों की साज़िश
Shekhar Chandra Mitra
ऐ दिल न चल इश्क की राह पर,
Abhishek Pandey Abhi
गुरु
Seema 'Tu hai na'
अगर यह मुलाकात ऐसी ना होती
gurudeenverma198
हासिल न कर सको
सिद्धार्थ गोरखपुरी
-- बड़ा अभिमानी रे तू --
गायक और लेखक अजीत कुमार तलवार
आ.अ.शि.संघ ( शिक्षक की पीड़ा)
Dhananjay Verma
” SALUTE TO EVERYONE ON ARMY DAY “
DrLakshman Jha Parimal
*एनी बेसेंट (गीत)*
Ravi Prakash
तक़दीर की उड़ान
VINOD KUMAR CHAUHAN
ਚੇਤੇ ਆਉਂਦੇ ਲੋਕ
Kaur Surinder
The Bridge
Buddha Prakash
जीवन से जैसे कोई
Dr fauzia Naseem shad
गुरु महान है।
★ IPS KAMAL THAKUR ★
पिता
Surjeet Kumar
Writing Challenge- नुकसान (Loss)
Sahityapedia
दिल यूँ ही नही मिला था
N.ksahu0007@writer
💐💐भौतिक: चिन्तनं व्यर्थ:💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
" व्यथा पेड़ की"
Dr Meenu Poonia
बेदर्द -------
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
मन की कसक
पंछी प्रगति
🚩जाग्रत हिंदुस्तान चाहिए
Pt. Brajesh Kumar Nayak
✍️एक सच्चाई✍️
'अशांत' शेखर
✍️बड़ी ज़िम्मेदारी है ✍️
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
Loading...