Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Aug 4, 2021 · 1 min read

“अंतिम-सत्य..!”

****************************************
ये मनुष्य प्राणी- कभी संतोष न हुआ।
न कभी होगा, बस! ये स्वार्थी हुआ ।।
सभी अपनी-अपनी धून में लगे हुए हैं।
अपनी प्रतिष्ठा को बनाने में लगे हुए हैं।।
कोई धर्म-कर्म के रास्ते निकल पड़े हैं।
कोई मनुष्य अधर्म की राहें चल पड़े हैं।।
अब! देखो न मनुष्य, मनुष्य को कभी–
न समझ पाया और न कभी समझेगा।
जीवन-भर इच्छाऐं- पूर्ति में मग्न रहेगा,
पर ईश्वर ने दिया- उस में संतोष न करेगा।।
पर एक सत्य–क्यों भूल जाता हैं मनुष्य..?
ये कि मरघट की वो धधकती ज्वाला में–
एक दिन सब कुछ स्वाहा हो जायेगा।
हे मनुष्य! यहीं “अंतिम-सत्य” है समझले–
अब भी वक्त है, फिर अंत में पछताऐंगा।।
जिस उद्देश्य से भेजा है ईश्वर ने जग में,
उस उद्देश्य की पूर्ति कर- नाम हो जायेगा।
सोच लें मनुष्य तू! ईश्वर की कृपा पायेगा,
नही तो फिर तू! भटकता ही रह जायेगा।।
******************************************
*रचयिता: प्रभुु दयाल रानीवाल (उज्जैन)*मध्यप्रदेश*।
******************************************

2 Likes · 5 Comments · 1244 Views
You may also like:
✍️पैरो तले ज़मी✍️
'अशांत' शेखर
सारे द्वार खुले हैं हमारे कोई झाँके तो सही
Vivek Pandey
तपों की बारिश (समसामयिक नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
सावन का महीना है भरतार
Ram Krishan Rastogi
✍️✍️धूल✍️✍️
'अशांत' शेखर
✍️ख़्वाबो की अमानत✍️
'अशांत' शेखर
एहसासात
Shyam Sundar Subramanian
"बारिश संग बदरिया"
Dr Meenu Poonia
दिनांक 10 जून 2019 से 19 जून 2019 तक अग्रवाल...
Ravi Prakash
रिश्तों की बदलती परिभाषा
Anamika Singh
समझे ये हमको
Dr fauzia Naseem shad
और मैं .....
AJAY PRASAD
मेरे गांव में होने लगा है शामिल थोड़ा शहर:भाग:2
AJAY AMITABH SUMAN
✍️पिता:एक किरण✍️
'अशांत' शेखर
बेपनाह गम था।
Taj Mohammad
रूको भला तब जाना
Varun Singh Gautam
गरीब लड़की का बाप है।
Taj Mohammad
परिवार
सूर्यकांत द्विवेदी
ग़ज़ल- मज़दूर
आकाश महेशपुरी
*आचार्य बृहस्पति और उनका काव्य*
Ravi Prakash
✍️कल..आज..कल..✍️
'अशांत' शेखर
सेहरा गीत परंपरा
Ravi Prakash
इश्क की आग।
Taj Mohammad
कुछ गुनाहों की कोई भी मगफिरत ना होती है।
Taj Mohammad
मुझको मत दोष तुम देना
gurudeenverma198
रुक जा रे पवन रुक जा ।
Buddha Prakash
Sweet Chocolate
Buddha Prakash
कुछ बातें
Harshvardhan "आवारा"
वैदेही से राम मिले
Dr. Sunita Singh
" विचित्र उत्सव "
Dr Meenu Poonia
Loading...