साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Sahitya

हाइकु : बेटी

प्रदीप कुमार दाश
प्रदीप कुमार दाश "दीपक" बेटी 01. नन्हीं सी कली फूल बन [...]

बेटियाँ

लक्ष्मी सिंह
🌹💕🌹 घर आँगन की शोभा.... हैं ये हमारी बेटियाँ इनकी हँसी से खिल [...]

माँ के लिए बेटियां

लक्ष्मी सिंह
🌹💕🌹💕🌹 मॉ के लिए बेटियां ईश्वर का दिया हुआ, वह अनमोल उपहार [...]

मेरी बेटी

लक्ष्मी सिंह
💕🌹💕🌹💕 प्यार की अनोखी 🌹 मूरत हो तुम, जिन्दगी की एक 🌹 [...]

भयानक स्वप्न

Sachin Yadav
सूनी सूनी राहों पर देखा ,बड़ा क्रूर था मंजर वो, अपनी ही बेटी के [...]

बेटी को जन्मदिन की बधाई

लक्ष्मी सिंह
युग -युग जीये मेरी लाड़ली कदम चूमे तेरी हर [...]

अनमोल है बेटियां…(कवि-पियुष राज)

पियुष राज
अनमोल है बेटियां अगर बेटे हीरा है तो हीरे की खान है [...]

प्यारी बेटी

सलमान खान
प्यारी बेटी ना दुनियां से, ना दोलत से, ना घर आबाद करने से, ! [...]

सोचो जो बेटी ना होती

लक्ष्मी सिंह
🌹🌹🌹🌹 सोचो जो बेटी ना होती, तो ये दुनिया कैसी होती? धरती के [...]

बेटिया

कृष्णकांत गुर्जर
माँ की गोद मे है किलकत है ,प्यारी प्यारी बेटियाँ, छम छम खेलत [...]

बेटी का हक़

प्रतापसिंह ठाकुर
 बेटी का हक़     कवियों ने बेटी पर कईं कविताएं लिखी    किसी ने [...]

मेरी बेटी मेरी सहेली

लक्ष्मी सिंह
मेरे हर सुख दुःख की हमजोली है, —मेरी बेटी मेरी सबसे अच्छी [...]

तुझे शायद पता ही नहीं

प्रतीक सिंह बापना
तुझे शायद पता ही नहीं किस तरह जीता हूँ तुझे मैं सुबह शाम दिन [...]

मेरी बेटियाँ

लक्ष्मी सिंह
मेरे अन्तर मन से निकली, है मेरी पहचान बेटियाँ । जिस दिन मेरी [...]

बेटी की चिट्ठी

लक्ष्मी सिंह
🌹🌹🌹🌹 एक बिटिया लिखने बैठी चिट्ठी, याद आई घर-आँगन की [...]

नशामुक्ति

डॉ.मनोज कुमार
भारत भर में हो सफल, नशामुक्ति अभियान | मानव की श्रृंखला से, [...]

बेटी

महीपाल सिंह जुगतावत
साल अठारह गुजरे जब से मेरे घर मे आई बेटी जीवन की फुलवारी [...]

बेटी

महीपाल सिंह जुगतावत
साल अठारह गुजरे जब से मेरे घर मे आई बेटी जीवन की फुलवारी [...]

मैं तुमसे मिलके ऐसा हो गया हूँ

Aaseeyusufpuri
मैं तुम से मिलके ऐसा हो गया हूँ हज़ारों में भी तन्हा हो गया [...]

*** कवि तेरी क्या कामना ***

भूरचन्द जयपाल
कवि तेरी क्या कामना,हुआ जो आमना-सामना । देखा उसने हमें इस [...]

मेरी बेटी

Ajay Kumar
‘ मेरी बेटी ‘ पल में रुठ जाये ,पल में मान जाती है, कभी संग तो [...]

“बेटी”

ज़ैद बलियावी
((((((( बेटी ))))))) --------------------------------- जब शाम को घर को आऊ, वो दौड़ी-दौड़ी [...]

बिटिया

Zia Zameer
नन्ही सी गुनगुनी हंसी से घर आंगन महकाने वाली भोली सी दो [...]

मुक्तक

नवीन श्रोत्रिय
कर प्रेम राधिका सा,मोहन हमे बनाना । हो वायदा कभी गर,फिर [...]

सुप्रभात कुण्डलिया

नवीन श्रोत्रिय
कान्हा तेरा नाम सुन,मन में नाचे मोर । तेरे सुमिरन मात्र [...]

मत्तग्यन्द सवैया

नवीन श्रोत्रिय
देख गरीब मजाक करो नहि,हाल बनो किस कारण जानो । मानुष  दौलत [...]

जिन्दगी

डॉ.मनोज कुमार
जिन्दगी आओ जी लें जिन्दगी हर अभाव हर तनाव में मुश्किलों की [...]

क्यों ऐसा?

manisha joban desai
क्यों ऐसा ? विश्वा जल्दी से अपनी कंपनी की बस से उतरती हुई घर [...]

“नन्ही सी बेटी”

Santosh Tiwari
नन्ही सी बेटी बड़ी हो गई अब तो पैरों पे अपने खड़ी हो गई थाम [...]

कन्या भ्रूण हत्या

Aashukavi neeraj awasthi
पापा पापा पापा पापा सुन हमारि बतिया पापा हमका न मारो हम [...]