साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

अन्य

विश्वास ….

sushil sarna
विश्वास .... क्या है विश्वास क्या वो आभास जिसे हम केवल महसूस [...]

** मिठास **

भूरचन्द जयपाल
ना जाने तेरी जुबां पे ये मिठास कहां से आती है मिश्री घोल दे [...]

** प्रेम विवाह की हक़ीक़त **

भूरचन्द जयपाल
आजकल के प्रेम विवाह की हकीकत जितनी शिद्दत से प्रेम किया [...]

* अकोहम ब्रह्म द्वितीयो नास्ति *

भूरचन्द जयपाल
इस दुनियां के लोग भी कितने अजीब हैं मुर्दों को तो [...]

सूर्य चालीसा

sunny gupta
जय जय जय हे दिनकर देवा। नित निःस्वार्थ हो करते [...]

प्रेम

Neelam Sharma
प्रेम विद्या- छंद मुक्त तेरे हृदय प्रेम का प्याला, अब तक [...]

**** स्मृतियों के पन्ने ****(संस्मरण)

Neeru Mohan
****समय पंख लगाकर कैसे उड़ गया पता ही नहीं चला | माँ का कमरे से [...]

मन मथुरा तन वृन्दावन

Hema Tiwari Bhatt
🌹मन मथुरा,तन वृन्दावन🌹 मन मथुरा बना ले कान्हा को फिर बुला [...]

इजहार ए इस्क

Suneel Rathore
इश्क़ इज़हार तक नहीं पहुंचा शाह दरबार तक नहीं पहुंचा चारागर [...]

तुम अद्भुत हो

Hema Tiwari Bhatt
मेर प्रियवर, तुम वाकई अद्भुत हो, तुम्हारी त्वचा से तुम्हारी [...]

“मनभावन”

Dr.rajni Agrawal
"मनभावन (मुकरी छंद) रूप सलौना खूब सजाते श्याम भ्रमर मन को अति [...]

शब्द

Neelam Sharma
छंद मुक्त रचना विषय-शब्द शब्द असीम भाव हैं, नहीं हैं माना [...]

लौट रहा है मेरा बचपन

अविनाश डेहरिया
तेरे आने की ये सुगबुगाहट। तेरा यू होने का एक एहसास।। तेरी वो [...]

योगी चालीसा

sunny gupta
.... 👍योगी चालीसा👍 दो० योगी अपने कर्म से,सदा करो प्रकाश। जन [...]

जियो चालीसा

sunny gupta
जय जय जियो डाटा के सागर। भारत भू पर हुए उजागर।। मुफ्त सभी को [...]

संस्मरण

Neelam Sharma
अलौकिक संस्मरण......। मीठी सी यादों का मैं लाई हूं आवरण [...]

सिंदूरी शाम

Neelam Sharma
सिंदूरी शाम थककर है आया देख सूरज सांझ की बांहों में, शर्म [...]

भारत माँ की चालीसा

sunny gupta
मित्रो हमने बहुत सी चालीसा पढ़ी है।लेकिन आज अपने भारत माँ के [...]

🌴 अन्नदाता किसान….. 🌴

तेजवीर सिंह
🌴 क्षणिकाएँ 🌴 जाड़ा गर्मी वर्षा सहके श्रम-स्वेद में [...]

वो बुद्ध कहलाया …

sushil sarna
वो बुद्ध कहलाया ... दुःख-दर्द,खुशी, सांसारिक व्याधियों के [...]

तेरा शहर ।।

अविनाश डेहरिया
हाथ खाली है तेरे शहर से जाते जाते। जान होती तो मेरी जान [...]

😁हास्य-साली है फ़िल्मी चित्रहार….

तेजवीर सिंह
😁😁😁😁😁😁😁😁 साली है फ़िल्मी चित्रहार, बहुरंगी-सी पिचकारी [...]

**दर्द का अहसास **

भूरचन्द जयपाल
अपनी भी हालत पेड़ से गिरे सूखे पत्ते-सी हो गयी है लोग [...]

** दिल आख़िर दिल जो ठहरा **

भूरचन्द जयपाल
दिल आखिर दिल जो ठहरा भावनाओ पर किसका पहरा उम्र हसीनाओं [...]

तुम्हारी पहचान ।।

अविनाश डेहरिया
तुम्हारे चेहरे की यह चमक और उसपर तुम्हारी मुस्कान तुम्हारा [...]

जंगल …

sushil sarna
जंगल ... जंगल के जीव अब शहरों में चले आये हैं स्वार्थी इंसान [...]

“””मनु””” के कड़वे सत्य वचन,,,,

मानक लाल*मनु*
"""मनु"""के सुप्रभात के कड़वे सत्य वचन,,,, कुछ लोग बेवक़्त इतना कह [...]

जिन्दगी दूसरों से नहीं खुद से मुकाबला करने का नाम होता है।

लक्ष्मी सिंह
🌹🌹🌹🌹 हमें खुद से अपना श्रेष्ठ निकलने के लिए संघर्ष करना [...]

माँ

Shri Bhagwan Bawwa
आंचल तुम्हारा दरख्तों की छाया है माँ, हर धूप से टकराना तुमने [...]

🙏 मातृ वंदना 🙏

तेजवीर सिंह
🙏 मातृ वंदना 🙏 🌹🌻🌹मधुशाला छंद🌹🌻🌹 🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹 *माँ* [...]