साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

अन्य

टूटना

preeti tiwari
टूटकर बिखर जाना,.......समेटना आसान है... यूं दरारो में [...]

“डर नहीं है”

Ankur Thakor
कूद पड़ा हु "मैदानों" में हार जीत का 'डर' नही हे केहदो जाके [...]

मेरे घर का पता……….(डी. के. निवातियाँ)

डी. के. निवातिया
न पूछो यारो तुम मुझ से मेरे घर का पता, अभी तो मै खुद ही के घर से [...]

ईश्वर की संतान—वर्ण पिरामिड—(डी. के. निवातियाँ)

डी. के. निवातिया
हे गुणी मानव बस तुम ऐसा करना दुखे न हृदय तेरे कारण कभी किसी [...]

राजयोग महागीता

Jitendra Anand
घनाक्षरी : छंद संख्या १९ ( पृष्ठ २४) --------------------------------- शांति [...]

जी दुखता है

अंकित शर्मा 'इषुप्रिय'
*लावणी छंद* जी दुखता है मरते देखा, जब जब सैनिक सीमा पर। धधक [...]

दर्द की लत/मंदीप

Mandeep Kumar
हम को तो दर्द लेने की ऐसी लत लगी, जितना तो लोग उदहार भी नही [...]

कुछ कुण्डलिनी छंद

आकाश महेशपुरी
कुछ कुण्डलिनी छंद ■■■■■■■■■■■■■■ 1- मस्ती मेँ कटती नहीँ, उन [...]

त्रिभंगी – छन्द

आकाश महेशपुरी
त्रिभंगी - छन्द . . . . . . . . . . . . हाँ इसके बिन ये, मुश्किल दिन ये, इससे [...]

हरिगीतिका छन्द

आकाश महेशपुरी
हरिगीतिका छन्द ॰ ॰ ॰ ॰ ॰ बलवान है सुनिए वही जो, सोच का धनवान [...]

दो सवैया छंद

आकाश महेशपुरी
दो सवैया छंद देश हुआ बदहाल यहाँ अब चैन कहीँ मिलता किसको [...]

दुर्मिल सवैया

आकाश महेशपुरी
दुर्मिल सवैया ॰॰॰ हम चाह रहे कुछ वक्त मिले इस जीवन मेँ कविता [...]

कुछ घनाक्षरी छंद

आकाश महेशपुरी
कुछ घनाक्षरी छंद ★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★ छन्द [...]

गरीबी बेच खरीद ली अमीरी मैंने

MANINDER singh
गरीबी बेच खरीद ली अमीरी मैंने, दर्द बेच ख़ुशी खरीद ली [...]

विमोचन एक हिन्दी पुस्तक का [व्यंग्य] +रमेशराज

कवि रमेशराज
[व्यंग्य ] विमोचन एक हिन्दी पुस्तक का [...]

वामन अवतार

Dr. Gopal Krishna Bhatt 'Aakul'
आज वामन जयंती है। वामन अवतार पर रोला छंद (11-13) में [...]

संतोष

अंकित शर्मा 'इषुप्रिय'
*कुंडलिनी* वैभव पा कर क्या करे, जब है मृत्यु विराम। खा ले सुख [...]

जवानियाँ प्रणम्य हैं।

pradeep kumar
हमको दिलातीं याद शहीदों की बार बार देश में बनी हैं जो [...]

पुरुषार्थ और परमार्थ के लिए कंचन बनो (प्रेरक प्रसंग/बोधकथा)

Dr. Gopal Krishna Bhatt 'Aakul'
तेजोमय बढ़ी हुई सफेद दाढ़ी से दिव्य लग रहे साधु को देख कर नदी [...]

एक अनोखा दान (नाटक)

Dr. Gopal Krishna Bhatt 'Aakul'
पात्र- 1- श्रीकृष्ण- पाण्डवों के पक्ष में पार्थ अर्जुन के [...]

क्षुद्रिकाएँँ

Dr. Gopal Krishna Bhatt 'Aakul'
दुश्‍मनी ***** दु:स्‍वप्‍न सा भर के गरल आकंंठ दोनों आखों में [...]

पर्दा ना कर

MANINDER singh
पर्दा ना कर, ऐ दिलबर, तेरे हुसन का दीवाना हु, जाने कितनी [...]

लफ्ज़ो की किताब

MANINDER singh
निकल पड़ा, लिए लफ्ज़ो की किताब, जिंदगी के हर दौर का था हिसाब, कुछ [...]

दुर्मिल सवैया :– चितचोर बड़ा बृजभान सखी !! -भाग -2

Anuj Tiwari
दुर्मिल सवैया :-- भाग -2 चित चोर बड़ा बृजभान सखी ! मात्राभार :-- 112 [...]

इत्तफाक

MANINDER singh
दुआओ का मोहताज़ हु, अल्फाज़ो के सुलगते शहर में, मुस्कराहट के दम [...]

मोडर्न इश्क (हास्य रचना)

MANINDER singh
देख आशिक की चिता, इश्क सारी हदे तोड़ता मिला, विरोह की आग में [...]

बीवी

MANINDER singh
पढ़ अख़बार मैंने, बड़ी रोचक जानकारी जुटाई, रह न जाये आप इससे [...]

कलम का कमाल

डी. के. निवातिया
कलम का कमाल क्या कहु इस कलम को जाने ये क्या कर जाए, हाथ लगी [...]

व्यंग

MridulC Srivastava
जीन्स क्यों बिलकुल बुरी बात.. ऐसे हंसते हैं क्या ये कोई तरीका [...]

दुर्मिल सवैया :– चित चोर बड़ा बृजभान सखी – भाग -1 !!

Anuj Tiwari
दुर्मिल सवैया :-- चितचोर बड़ा बृजभान सखी !! भाग -1 मात्रा-भार :-- 112 -112 [...]