साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

अन्य

गीतिका छंद

शैलेन्द्र खरे
◆ गीतिका छंद ◆ विधान~ [सगण जगण जगण भगण रगण सगण+लघु गुरु] (112 121 121 [...]

*** मिआं -बीवी की नौक झोक ***

अजीत कुमार तलवार
तेरी सूरत अब मुझ को अच्छी नहीं लगती , क्या खूब लगा करती थी [...]

तमन्ना आराम करने की औरो से ज्यादा

अजीत कुमार तलवार
तमन्ना आराम करने की औरो से ज्यादा हम भी रखते हैं सब से ज्यादा [...]

फाइव-पी समवन

डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
फाइव-पी एक नमूना प्रति हैं. बड़े-बड़े प्रकाशक जो कुछ भी छापते [...]

कर्ण का प्रण

sushil sharma
कर्ण का प्रण (लघु नाटिका ) सुशील शर्मा प्रस्तावना -यह एकांकी [...]

कृष्ण चालीसा

सोनू हंस
मेरे प्रिय मित्रों और विद्वत जनों को सोनू हंस का प्रणाम। मैं [...]

विजेता

kamlesh goyat
आपने पढ़ा कि शमशेर और राजाराम नामक दो निसंतान व्यक्ति अपनी [...]

बनवारी (मत्तगयंद छंद सवैया)

विजय कुमार सिंह
गोकुल ग्राम सजै जब केशव बाँसुरिया धुन बाजत प्यारी संग सखी सब [...]

आदिमानव असभ्य था या आजमानव

रामकृष्ण शर्मा बेचैन
आदिमानव असभ्य था या आज मानव है कौन था असभ्य जिसने। जिसने तन [...]

कृतिम ज़िन्दगी

milan bhatnagar
मैं मौत नहीं, मैं जीवन हूँ, ज़िन्दगी के बोझ से, बुझा बुझा सा [...]

[[[ यूँ ही शुरू हो गया फ़िल्मी सफ़र ]]]

दिनेश एल०
((((यूँ ही शुरू हो गया फिल्मी सफर)))) #दिनेश एल० "जैहिंद" फिल्मी [...]

“नए समाज की ओर”** काव्यात्मक लघु नाटिका

Neeru Mohan
पात्र- माँ , बेटी , पिता और सूत्रधार ************************** *** सूत्रधार - आज [...]

परदेश

DESH RAJ
एक दिन परदेश छोड़कर तुझे दूर अपने “देश ” है जाना , सखी, तू क्यों [...]

विजेता

kamlesh goyat
विजेता उपन्यास तीन परिवारों की कहानी है। आज पृष्ठ संख्या [...]

विजेता

kamlesh goyat
आपने पढ़ा कि राजाराम अपनी पत्नी के मन को खुश रखने के लिए पाँच [...]

चुनाव सही मतदान का

अजीत कुमार तलवार
चुनाव का दौर है, यह भी चला जायेगा कुछ दे और कुछ ले [...]

एक व्यंग.बारिश और नगर पर

अजीत कुमार तलवार
मेघा रे मेघा रे, तू परदेश न जा रे बड़े दिनों के बाद तू आया शहर [...]

विजेता

kamlesh goyat
आगे पढ़िए विजेता उपन्यास की पृष्ठ संख्या आठ। यह सुनकर ममता [...]

* क्षणिका *

भूरचन्द जयपाल
समझ नहीं आता जिंदगी इतनी जिद क्यूँ करती है जीने के [...]

* पवित्रता मन में बसी होनी चाहिए *

भूरचन्द जयपाल
पवित्रता मन में बसी होनी चाहिए केवल लोगों को दिखाने के [...]

भजन :- * श्याम मोरे अब दे दो दर्शन *

भूरचन्द जयपाल
प्रारम्भिक बोल श्याम मोरे अब दे दो दर्शन जीवन -सन्ध्या आन [...]

फॉर्मूला-ए-चुनावी शुभकामना

डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
चुनाव सम्पन्न होने के साथ ही राजनीति का बाजार गर्म हो जाता [...]

*** तुझ सा इक दोस्त चाहिए ***

अजीत कुमार तलवार
************* तुझ सा इक दोस्त चाहिए *********** कहते हैं कहने वाले की दुनिया [...]

**इस तरह का प्यार न करना कभी **

अजीत कुमार तलवार
वो आएगी, पलक झपकती नहीं उस प्रेमी की एक टकटकी सी लगा कर बैठा [...]

चोपाई

Aashukavi neeraj awasthi
जगह जगह होती है चर्चा । कौन भरी अबकी ते पर्चा।। केहिका मिली [...]

रंगोली

Aashukavi neeraj awasthi
*अंतिम तिथि 15 फरवरी 2017* आत्मीय साहित्यप्रेमियों सादर नमन आप [...]

विजेता

kamlesh goyat
विजेता की पृष्ठ संख्या सात पढ़िए। हमेशा की तरह वह घी,आचार और [...]

सत्यप्रकाश भारद्वाज का लघुकथा संग्रह आशा की किरणें

Bijender Gemini
नर्ई दिल्ली का अंशिका पब्लिकेशन द्वारा आशा की किरणें लघुकथा [...]

विजेता

kamlesh goyat
आज आप पढ़ें विजेता की पृष्ठ संख्या पाँचऔर छ:। नीमो तो हर शाम [...]

विजेता

kamlesh goyat
आज आप पढिए विजेता उपन्यास की पृष्ठ संख्या चार। वह खामोश था [...]