साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

कविता

&&& प्रभु तेरी लीला देखि &&&

अजीत कुमार तलवार
ऊपर वाले न मैने कभी तेरी सूरत देखि न ही वो तेरी सुहानी सी सीरत [...]

# तेरी गली से जब गुजरेगी #

अजीत कुमार तलवार
तेरी गली से जब गुजरेगी मय्यत मेरी कसम है तुझ को तून आंसू न [...]

**** मुखिया जी,,,थोडा सही से बोला कीजेये !!***

अजीत कुमार तलवार
आज एक खबर पढ़ी मैने, जिस ने दिल पर सीधा वार किया सोचा की आपने आज [...]

खुशबू के लिए, गुलाब से बढ़कर कौन है ?

अजीत कुमार तलवार
खुशबू के लिए, गुलाब से बढ़कर कौन है ? मेरी नजर में आप से बढ़कर भला [...]

कमल का फूल, कमला के आंगन

अजीत कुमार तलवार
कमल का फूल, कमला के आंगन में सजा अच्छा लगता है कमला के आँगन [...]

** किस बात का नशा **

अजीत कुमार तलवार
नशे में चूर हो रहा है जमाना न जाने कहाँ तक चला जायेगा दौलत की [...]

क्या तुम सुनोगे

अजीत कुमार तलवार
में एक बात कहता हूँ.. क्या तुम उस को सुनोगे जो कुछ तुम्हारे [...]

**समय का पौधा..समय के साथ **

अजीत कुमार तलवार
* इक नन्हा सा पौधा सींचता हूँ रोज में अपनी बगिया में नन्हे [...]

दिन भर घूमती हैं लाशे इस शेहर में

अजीत कुमार तलवार
दिन भर घूमती हैं लाशे इस शेहर में कुछ साँसों को अपने साथ [...]

** मेरा मन है उदास**

अजीत कुमार तलवार
पंजाबी और हिंदी का संगम..इस कविता में है... अगर किसी को न समझ [...]

अकेले ही चले जाना है

अजीत कुमार तलवार
इक सफ़ेद चादर ओढ़ के जाना है उस खूबसूरत से चेहरे को उसमें [...]

**तुझे ख़ुशी..मुझे गम **

अजीत कुमार तलवार
तुझे देख कर मैंने जीना सीख लिया तू चला गया मैंने पीना भी सीख [...]

**प्यार करने वाले ..खुद तलबगार हो गए हैं **

अजीत कुमार तलवार
रास्ते अलग थलग से हो गए हैं प्यार करने वाले बड़े बेबस से हो गए [...]

****सुखी हुई पत्तियन और तेरी याद**

अजीत कुमार तलवार
ऐसे फूलों से प्यार नहीं करता कोई जिस की महक गुजर जाती है मैं [...]

****राजनीति में आपका स्वागत है ****

अजीत कुमार तलवार
झूठ, फरेब अगर आता है आपको तो राजनीति में आपका स्वागत है किसी [...]

****में सोचने पर मजबूर हूँ ****

अजीत कुमार तलवार
मैं सोचने पर मजबूर हूँ, कि जमाना कहाँ जा रहा है घर घर में भाई [...]

*****प्रेम में अंधे न बनो*****

अजीत कुमार तलवार
प्रेम की भाषा को समझ कर प्रेम करो प्रेम में डूब कर न इतना अँधा [...]

@@तुझ से वादा निभाने का @@

अजीत कुमार तलवार
तुझ से वादा कर लूं., कसम खा कर तो निभाने का हक़ दे खुदा मुझ [...]

****रेत पर कभी महल नहीं बनते****

अजीत कुमार तलवार
रेत पर कभी महल नहीं बनते क्या फायदा बे वजह जताने का अरमानो [...]

*** तोड़ दिया घरोंदा तूने ,तुझे क्या मिला ***

अजीत कुमार तलवार
******* तोड़ के घरोंदा उस जीव का बेघर कर दिया ओ तूने इक पथर जरा [...]

*** मैखाने का रस्ता***

अजीत कुमार तलवार
जरा मैखाने का रास्ता बता देना यह प्यार में जलने और सताए हुए [...]

व्यवहारिकता

Ashwini Ramesh
★व्यवहारिकता★ कोरे आदर्शवाद की गीली लकड़ियों से घर का [...]

* तेरा यह कहना..कि ..आस न रखना*

अजीत कुमार तलवार
तुझे दिल से चाहा, तुझे दिल से प्यार किया तेरे दिल को अपना बना [...]

**मेरी विनती है तुझसे मेरे राम **

अजीत कुमार तलवार
मैंने रात काटी ...तेरे इंतज़ार में कि तू नजर आये सुना है तेरा [...]

मेरी यादगार यात्रा

राहुल कु
आज चढ़ा था, मैं बस के ऊपर, बस के ऊपर, मतलब उसकी, छत के ऊपर, थी वो [...]

क्या हम सब डर गए***

अजीत कुमार तलवार
बॉर्डर पे लग गयी है आग दिलों में उठ रहे हैं सैलाब दुश्मन की [...]

*****माँ तुझे ऐसा न समझा था *****

अजीत कुमार तलवार
* माँ ने पैदा किया सब को, सब के साथ ही माँ होती है पर कहीं कहीं [...]

मदहोश

arti lohani
तेरी ऊँगलियों की शरारत, मुझे मदहोश करने लगी. तेरी साँसों की [...]

अपनी अपनी ढपली सब की

अजीत कुमार तलवार
आज सत्ता के चक्कर में हो रहा है देश का नुक्सान, जिस को देखो [...]

बिरहन (कविता)

Onika Setia
थकित पग और, शिथिल ,क्षीण काया। [...]