साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

गीत

गीत :– दिल नें तुझे पाने के सपने संजोये हैं !!

Anuj Tiwari
गीत :-- तुझे पाने के सपने संजोये हैं !! तेरी याद मे हमने अपनी [...]

“गीत”

Chhaya Shukla
प्रिय तुम छेड़ो साज वही जो पहली बार सुने थे | राग वही अनुराग [...]

“गीत”

Chhaya Shukla
यदि पुष्प तेरी कामना | तो शूल भी स्वीकारना | आगे अचल पहाड़ [...]

तुम्हारी याद आती है

मदन मोहन सक्सेना
तुम्हारी याद आती है जुदा हो करके के तुमसे अब ,तुम्हारी याद [...]

खुश्बू जानी-पहचानी थी

अमरेश गौतम
मुद्दतों बाद वो दिखे मुझे, पर अपनों की निगरानी थी, खुश्बू [...]

तुझे पाने को सनम दिल मेरा मचलता है

Ashish Tiwari
तुझे पाने को सनम दिल मेरा मचलता है ! तुम्हे देखे कोई तो ये बदन [...]

सबकुछ होते हुए प्यार पाया नही

Ashish Tiwari
प्यार दिल से किया था बताया नही ! आज तक मैंने उसको सताया नही [...]

पैरोडी

Ashish Tiwari
चल दिए माँ के मढ़ुलिया ओए क्या बात हो गयी ! भक्तो की माँ शारद से [...]

जगमगायेगा जुगनू मै ठानता हू माँ

Ashish Tiwari
मै तेरी हर बात दिल से मानता हू माँ ! तेरे दुःख दर्द सपने मै [...]

बेला फूल पर गीत

Ashish Tiwari
बेला रानी रात को महके , भँवरें झूमे चुपके चुपके ! भीनी भीनी [...]

आया सावन सपने बुनकर !!

Ashish Tiwari
कल कल झरने झूमे मधुवन , आया सावन सपने बुनकर !! मोर, पपीहा, कोयल [...]

सुखद सुहावन सावन आया

Ashish Tiwari
सुखद सुहावन सावन आया ! जीव जन्तु मेढक तन पाया !! मोर, पपीहा, [...]

गुण क्या गाऊँ मैं कनहल के

Ashish Tiwari
पीले फूल लगें मखमल से गुण क्या गाऊँ मैं कनहल के भीनी भीनी [...]

सपने सजाने लगा आजकल हूँ

मदन मोहन सक्सेना
सपने सजाने लगा आजकल हूँ मिलने मिलाने लगा आज कल हूँ हुयी [...]

सरस्वती वंदना

अंकित शर्मा 'इषुप्रिय'
*सरस्वती वंदना* सरस्वती माँ करें वंदना , हम तेरे ही बालक [...]

हो सावन की मदमस्त घटा तुम

दुष्यंत कुमार पटेल
हो सावन की मदमस्त घटा तुम आ जाओ मेरे आँगन झुमेंगे नाचेंगे हम [...]

मोहिनी सूरत……….

डी. के. निवातिया
मोहिनी सूरत………. देख के उसकी मोहिनी सूरत, फूल भी खिलना भूल [...]

कौन तवज्जो देता है इन कोमल अहसासों को!

शुभम् वैष्णव
माँ जाने अपने बेटों के दिल के जज़्बातों को। कौन तवज्जो देता [...]

*किसी से कभी कोई वादा न कीजे*

Dharmender Arora Musafir
किसी से कभी कोई वादा ना कीजे वादा तो इक दिन निभाना [...]

तेरी आँखों में है क्या जादू

दुष्यंत कुमार पटेल
तेरी आँखों में है क्या जादू तेरी बातों में है क्या जादू मेरा [...]

जबसे तुझे जाना है,चाहा है

दुष्यंत कुमार पटेल
जबसे तुझे जाना है , चाहा है तुझे अपना ख़ुदा मैंने माना है तू न [...]

बादल

बसंत कुमार शर्मा
झूम झूम जब छाते बादल जल कितना बरसाते बादल हो जाता है तन मन [...]

प्रिये ! मैं गाता रहूंगा…

त्रिलोक सिंह ठकुरेला
यदि इशारे हों तुम्हारे, प्रिये ! मैं गाता रहूंगा. प्रेम-पथ का [...]

*दिल में सबके प्यार हो*

Dharmender Arora Musafir
दिल में सबके प्यार हो ! कोई ना तकरार हो !! वैर का ना हो [...]

उमड़ घुमड़ घन बदरा आये

हिमकर श्याम
उमड़ घुमड़ घन बदरा आये। नयनों में बन कजरा छाये।। खेतों में, [...]

मौन की भाषा गढूं या कण्ठ से उद्गार दूँ

Chidanand Sandoh
उठ रहे जो भाव उर में सुर से मैं आकार दूँ मौन की भाषा गढूं या [...]

प्रीत

मदन मोहन सक्सेना
प्रीत नज़रों ने नज़रों से नजरें मिलायीं प्यार मुस्कराया और [...]

तुम्हारी याद आती है

मदन मोहन सक्सेना
तुम्हारी याद आती है जुदा हो करके के तुमसे अब ,तुम्हारी याद [...]

तुम्हें पाना मंज़िल अगर है

दुष्यंत कुमार पटेल
सूना डगर है , लम्बा सफर है चल राही तुझे किसका डर है छोड़ [...]

बदरा न बरसे…….

डी. के. निवातिया
बदरा न बरसे……. नभ में घनघोर घटा घुमड़ घुमड़ जाये। बदरा न बरसे [...]