साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

गज़ल/गीतिका

हमको तुमसे प्यार हुआ है !

Ashish Tiwari
हमको तुमसे प्यार हुआ है ! ऐसा पहली बार हुआ है !! देख मधुभरी [...]

ग़र तू कहे तो हम सुधर जाये

Ashish Tiwari
अपनी वादों से हम मुकर जाये ! ग़र तू कहे तो हम सुधर जाये !! रोज़ [...]

उनसे हमारी मुलाक़ात न हो !

Ashish Tiwari
उनसे हमारी मुलाक़ात न हो ! कह कर मुकर जाये वो बात न हो !! साथ [...]

मम्मी की मम्मा वो धरती है नानी

Ashish Tiwari
आज अपने बच्चो से क्यों डरती है नानी ? शुबह शुबह काम क्यों करती [...]

खुदा करे कोई गरीब न हो

Ashish Tiwari
खुदा करे कोई गरीब न हो ! दुःख दर्द दिल के करीब न हो !! गरीब हो तो [...]

गुम हो गया न जाने क्या क्या करता होगा

Ashish Tiwari
गुम हो गया न जाने क्या क्या करता होगा ! खुदा वो कैसा होगा किस [...]

देखकर दंग हूँ उसकी जादूगरी

Ashish Tiwari
देखकर दंग हूँ उसकी जादूगरी ! इक नजर क्या मिली दिल फ़िदा हो गया [...]

तुकबन्दी को यार छंद, ग़ज़ल कहता हूँ

Ashish Tiwari
बात कड़वी है मगर साफ़ सरल कहता हूँ ! तुकबन्दी को यार छंद, ग़ज़ल [...]

रिश्ते भूल गया दूर हो के ||ग़ज़ल||

दुष्यंत कुमार पटेल
रिश्ते भूल गया दूर हो के क्यों अँधेरा ज़िंदगी नूर हो के जीना [...]

रंगत इंसान के

दुष्यंत कुमार पटेल
किसे पता कितने रूप है बेईमान के | पैसा देख बदलती है रंगत इंसान [...]

ग़ज़ल (अपनी जिंदगी)

मदन मोहन सक्सेना
ग़ज़ल (अपनी जिंदगी) अपनी जिंदगी गुजारी है ख्बाबों के ही सायें [...]

ग़ज़ल(दूर रह कर हमेशा हुए फासले )

मदन मोहन सक्सेना
ग़ज़ल(दूर रह कर हमेशा हुए फासले ) दूर रह कर हमेशा हुए फासले [...]

ग़ज़ल ( दिल की बातें)

मदन मोहन सक्सेना
ग़ज़ल ( दिल की बातें) जिनका प्यार पाने में हमको ज़माने लगे बह [...]

ज़िन्दगी गुज़रती होगी

kamni Gupta
कहीं बंद किवाड़ों में भी आरज़ू सिसकती होगी। अपने अरमानों को [...]

ग़ज़ल

Ramkishore Upadhyay
सपना भी रुचिकर हो जाता, गर उसका दिल घर हो जाता \1\ * सबके दुख जो [...]

ग़ज़ल (जीबन :एक बुलबुला )

मदन मोहन सक्सेना
ग़ज़ल (जीबन :एक बुलबुला ) गज़ब हैं रंग जीबन के गजब किस्से लगा [...]

ग़ज़ल (ये कैसा तंत्र)

मदन मोहन सक्सेना
ग़ज़ल (ये कैसा तंत्र) कैसी सोच अपनी है किधर हम जा रहें यारों गर [...]

ग़ज़ल (हक़ीकत)

मदन मोहन सक्सेना
ग़ज़ल (हक़ीकत) वह हर बात को मेरी क्यों दबाने लगते हैं जब हक़ीकत [...]

ग़ज़ल (सबकी ऐसे गुजर गयी)

मदन मोहन सक्सेना
ग़ज़ल (सबकी ऐसे गुजर गयी) हिन्दू देखे ,मुस्लिम देखे इन्सां देख [...]

ग़ज़ल (कुर्सी और वोट)

मदन मोहन सक्सेना
ग़ज़ल (कुर्सी और वोट) कुर्सी और वोट की खातिर काट काट के सूबे [...]

ग़ज़ल ( प्यारे पापा डैड हो गए )

मदन मोहन सक्सेना
ग़ज़ल ( प्यारे पापा डैड हो गए ) माता मम्मी अम्मा कहकर बच्चे [...]

ग़ज़ल (दुआ)

मदन मोहन सक्सेना
ग़ज़ल (दुआ) हुआ इलाज भी मुश्किल ,नहीं मिलती दबा असली दुआओं का [...]

वो राह बतलाना नहीं

Dr Archana Gupta
वो राह बतलाना नहीं जिस पर हमें जाना नहीं कह बोझ बेटी को [...]

इजाजत है सितम कर लो

अंकित शर्मा 'इषुप्रिय'
***************************************** *गजल* सदा-ए-दिल इजाजत है [...]

चाँद का अब हो गया दीदार है /ईद

Dr Archana Gupta
चाँद का अब हो गया दीदार है ईद की खुशियों से दिल गुलज़ार है दे [...]

पथिक पग अपने बढाये चला जा

अंकित शर्मा 'इषुप्रिय'
* गीत * पथिक पग अपने बढाये चला जा। उत्साह मन में समाये चला [...]

इक नजर

अंकित शर्मा 'इषुप्रिय'
*गीतिका* मापनी-122 122 122 12 हमें आपकी इक नजर चाहिये। कयामत भरी [...]

ग़ज़ल।शिक़ायत अब नही होती।

राम केश मिश्र
ग़ज़ल।शिक़ायत अब नही होती ।। वफ़ा के नाम पर बिल्कुल नफ़ासत अब [...]

सपनों सी एक गजल

Pushpa Patel
बता दिया है तेरे दिल को हम चुरायेंगे जहाँ कहीं भी रहो दूर अब न [...]

कारवाँ थम रहा है साँसों का

सर्वोत्तम दत्त पुरोहित
कारवाँ थम रहा है' सांसों का पर भरोसा है तेरे' वादों [...]