साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

गज़ल/गीतिका

मैं कभी चाँद पर नहीं आता

Salib Chandiyanvi
दिल पे कोई असर नहीं आता याद तू इस क़दर नहीं आता रात आती है [...]

जागते जागते दोपहर हो गयी

Jitendra Jeet
ना रही ये खबर कब सहर हो गयी जागते जागते दोपहर हो गयी [...]

कुछ तो कमी सी है ….

डी. के. निवातिया
कुछ तो कमी सी है …. क्यू लगे रुखा सा कुछ तो कमी सी है ! जिंदगी [...]

मै सिस्टम लाचार मुझे लाचार रहने दो……………..

डी. के. निवातिया
मै सिस्टम लाचार मुझे लाचार रहने दो दुनिया कहे बीमार मुझे [...]

बुढ़ापे के जवान जज्बात

डॉ सुलक्षणा अहलावत
ऐ दोस्त! उम्र मेरी साठ साल पार हो गयी पर दिल मेरा जवां [...]

उतर कर आ

डॉ मधु त्रिवेदी
प्रभो फिर से धरा पर तू उतर आ , कष्ट हरने को यहाँ चहु ओर बैठे [...]

मुहब्बत

डॉ मधु त्रिवेदी
प्यार पर तो जड़ा न ताला है ये मुहब्बत वहीं तो प्याला [...]

कान्हा

डॉ मधु त्रिवेदी
देवकी का पुत्र था नन्द का वो प्यार भी वासु ने उसको दिया था एक [...]

अंगदान

डॉ मधु त्रिवेदी
चूसता खून इन्सान इन्सान का आज वो रूप रखता है शैतान का डस [...]

बढ़ रही हैं जो दिलों में दूरियाँ

Dr Archana Gupta
बढ़ रही हैं जो दिलों में दूरियाँ शोर अब करने लगी [...]

अगरचे मैला साधू संत का किरदार हो जाये—- गज़ल

निर्मला कपिला
अगरचे मैला साधू संत का किरदार हो जाये तो मजहब धर्म सब उसके [...]

सच की हालत

डॉ सुलक्षणा अहलावत
आज सच पराजित होने की कगार पर खड़ा है। पर सच है कि झूठ को हराने [...]

साथ हमको कभी तो तुम्हारा मिले

Dr Archana Gupta
साथ हमको कभी तो तुम्हारा मिले ज़िन्दगी को जरा सा सहारा [...]

गज़ल :– जमीं का चार गज होगा !!

Anuj Tiwari
गज़ल :-- जमीं का चार गज होगा !! बहर :-- 1222 -1222 -1222 -1222 शिवालय भी [...]

वक़्त था गुजर गया दौर आना अभी बाकी है

Yashvardhan Goel
लहर थी गुज़र गयी सैलाब आना बाकी है बिखरे हैं टूटकर जितनी [...]

ख्वाब पलना चाहिए

बसंत कुमार शर्मा
जिन्दगी में इक सुनहरा ख्वाब पलना चाहिए लग गयी ठोकर तो’ क्या [...]

क्या आँच दे सकेंगे बुझते हुए शरारे

चन्‍द्र भूषण मिश्र ‘ग़ाफ़िल’
गुल सूख जाए हर इक या ग़ुम हों चाँद तारे गाएंगे लोग फिर भी याँ [...]

क्या तमाशा है दिल लगाना भी………

Ramesh chandra Sharma
पास आकर के दूर जाना भी क्या तमाशा है दिल लगाना भी। आँख से आँख [...]

हाथ से हाथ पर नहीं छूटे……..

Ramesh chandra Sharma
सांस अपनी अगर कभी टूटे हाथ से हाथ पर नहीं छूटे । रूह तो [...]

मुझसे बिछड़ के आप ज़रा ग़मज़दा न थे

नीलोफ़र नूर
पलकों पे अश्क लब पे भी हर्फ़-ए-दुआ न थे मुझसे बिछड़ के आप ज़रा [...]

क़िस्सा अजीब है न कहानी अजीब है

Salib Chandiyanvi
किस्सा अजीब है न कहानी अजीब है राजा के साथ है जो वो रानी अजीब [...]

तिरंगा

kamni Gupta
जीवन तो है आना जाना। अपने फर्ज कभी न भुलाना। अपने वतन पर [...]

एक ख्वाहिश है बस | अभिषेक कुमार अम्बर

Abhishek Kumar Amber
एक ख्वाहिश है बस दीवाने की, तेरी आँखों में डूब जाने की। साथ [...]

ख्वाब आँखों में |अभिषेक कुमार अम्बर

Abhishek Kumar Amber
ख्वाब आँखों में जितने पाले थे, टूट कर के बिखर ने वाले [...]

सजाया ख्वाब काजल सा वो आन्सू बन निकलता है

निर्मला कपिला
सजाया ख्वाब काजल सा वो आन्सू बन निकलता है उजड जाये अगर गुलशन [...]

फ़क़्त मेरे घर का पता पूछती है

Salib Chandiyanvi
तू दुनिया की मान्निद बडी मतलबी है शानासा है लेकिन बहुत अजनबी [...]

अब कोई वारदात मुश्किल है

Salib Chandiyanvi
हम बिछायें बिसात मुश्किल है खुद से खुद की ही मात मुश्किल है [...]

जब से दुकान खोली है तीरो कमान की

Salib Chandiyanvi
अल्लाह कर रहा है हिफ़ाजत मकान की बिजली यहाँ गिरे तो गिरे [...]

कोई बतलाए आख़िर क्या करूं मैं

Nasir Rao
कोई बतलाए आख़िर क्या करूं मैं छुपाऊँ क्या मैं ज़ाहिर क्या [...]

सुदर्शन चक्र से धरती पे दुष्टों को मिटाना है

Dr Archana Gupta
सुदर्शन चक्र से धरती पे दुष्टों को मिटाना है तुम्हें अवतार [...]