साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: Vindhya Prakash Mishra

Vindhya Prakash Mishra
Posts 63
Total Views 1,010
Vindhya Prakash Mishra Teacher at Saryu indra mahavidyalaya Sangramgarh pratapgarh up Mo 9198989831

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

लेख (4 Posts)


चिंतन की दिशा

चिंतन की दिशा । हम सब मानव प्राणी जितने सामाजिक माने जाते [...]

“बच्चे को बच्चा ही समझे”

किसी ने सच कहा है "बच्चों को बच्चा ही समझे" बडो जैसी अपेक्षाए [...]

क्या गरीबी वंशानुक्रम से आती रहेगी

क्या विडम्बना है जो हाथ लोगो को कमाकर देते हैं ।वही दूसरो की [...]

चोटी के लिए

इस समय हमारे देश में एक अजीब सी बेचैनी व्याप्त है । कोई चोटी [...]