साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: Vindhya Prakash Mishra

Vindhya Prakash Mishra
Posts 111
Total Views 2,511
Vindhya Prakash Mishra Teacher at Saryu indra mahavidyalaya Sangramgarh pratapgarh up Mo 9198989831

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

गज़ल/गीतिका (2 Posts)


कभी लेखनी कहती है ।

कभी कभी कागज कहता है , कभी लेखनी खुद कहती है आज तुम्हें कुछ [...]

जिसके जान से ही मेरी पहिचान है

जिसके जान से ही मेरी पहिचान है, तुम नही तो दिन मेरा सूनसान [...]