साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: शशांक तिवारी

शशांक तिवारी
Posts 5
Total Views 30

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

उसको याद नही करना

दरवाजे पे आँखे रखकर , मन पहुँचा है तुम्हें बुलाने ! पैर खीचता [...]

लड्डू जैसे गालों वाली

मतभेदों के बीच हमारे , जागा है इक भाव प्रिये ! इन आँखों में [...]

ऐसा ही है प्यार हमारा

सारी मर्यादायें तोड़ी , मन को थोड़ा किया सबल ! ज्यों ही पलटी [...]

दीदी तुमसा कोई नही है

इंद्रधनुष सा पल्लू रखकर , आज सजी है राजकुमारी ! बाहर बाहर [...]

अद्भुत है एहसास तुम्हारा

कसमें तोड़ रहा हूँ तेरी खुद को फिर से भरमाउंगा तेरे सब उपहार [...]