साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: Suyash Sahu

Suyash Sahu
Posts 9
Total Views 63

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

ग़ज़ल

हर सच की ये सच्चाई है आगे कुआं तो पीछे खाई है कैसे चीरा दिल [...]

ग़ज़ल

हर शय का इस तरह एहतिमाम होता है गूंगों से पूछ कर यहां काम [...]

ग़ज़ल

सुहानी शाम का मंज़र मगर तुम नहीं आये मेरा साया था हमसफ़र मगर [...]

ग़ज़ल

यही मिला है मुझे उसके प्यार में बिखर गया हूँ मैं अपने हिसार [...]

मुक्तक

ज़ुबानी जंग नहीं अब अंदाज़ बदलना होगा हम परिंदों को अपना [...]

ग़ज़ल

कोई साज़ है न सुरूर है ये सज़ा किसे मंज़ूर है कुछ पास है कुछ [...]

ग़ज़ल

कितना प्यारा मंज़र है मैं हूँ , चाक समंदर है आँखों से वो [...]

ग़ज़ल

कोई एक नहीं सारा निज़ाम है सवालों में वफ़ा खड़ी है बरहना अवाम के [...]

ग़ज़ल

चलो आज हम कुछ ऐसा करते हैं हाथ उनको दें जो यूँ ही डरते हैं [...]