साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: Sharda Madra

Sharda Madra
Posts 53
Total Views 616
poet and story writer

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

ईश की रचना सुता

गीतिका ईश की रचना सुता मापनी- 2122 2122 2122 212 ईश की रचना सुता [...]

खिला कण कण

खिला कण कण,पुष्प महके, भ्रमर बहके, आम्र बौर आये कोयल कूके,पलाश [...]

शारदे माँ

शारदे माँ सज रही तुम, आज वीणा बजाती संगीत में रमी तुम, हर तान [...]

तन मन धन अर्पण करूं

तन मन धन अर्पण करूं, ध्याऊँ तुझे नित श्याम चरणों की चेरी [...]

बो रहा कोई विष बीज

^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^ बो रहा कोई विद्रोही विष बीज, पनपने मत [...]

प्रेम खुमारी

पावन सदा पुनीत मृदुल सा जहान हो सुरभित पवन,रंगीन प्रकृति [...]

बैठते न ठाले

समय सारा किया परिवार के हवाले लिखें कुछ कैसे कभी बैठते न [...]

मात पिता

मात-पिता श्रद्धेय सदा, पूज्य ईश समान उनके इर्द-गिर्द [...]

मन चंचल

मन चंचल, अधीन हम,पल-पल में भटकाये कभी चढ़ाये पर्वत , कभी धरा [...]

रेखाओं के खेल

लक्ष्मण रेखा तोड़कर सिया के उर थी पीर रेखाओं के खेल ये कौन [...]

दाना पानी के सिलसिले

दाना-पानी के सिलसिले परदेश में ले जाते बच्चे माँ-बाप से बिछड़, [...]

कलम का वार तीखा हो

डुबोने नाव भारत की कई गद्दार बैठे हैं मिटाने राष्ट्र गरिमा [...]

भोला भाला रूप

भोला-भाला रूप बना कुछ साधू फैंके जाल कथा-कहानी सुनके जनता [...]

मेघा

नदियाँ सूखती जाती, नाले, तालाब सब सूखे हैं इमारतें ढेरों, पेड़ [...]

जीवन

जीवन यज्ञशाला, परिश्रम की आहुतियाँ जरूरी रहो कर्मरत ,सब सपने [...]

रंगो भीगे

रंगो भीगे अंग, हिय में उमंग , मारे पिचकारियाँ इत भागो उत भागो [...]

साहस

उम्मीद की किरण टिमटिमाती थी टूटे सितारे में बेचारी बन न [...]

उड़ान

पवन मेरी सीढ़ी बने, वितान पर हो इक मकान रवि से बाते करूँ, शशि [...]

रंग-रंगोली

हुरियारिन रंग डाले हुरियारे मन भाई होली घुमा-घुमा लट्ठ मार [...]

मनहरण घनाक्षरी

पिचकारी धरी हाथ ग्वाले भी है संग साथ राधा की वो पूछे बात [...]

प्रीत

तेरी प्रीत ने हमें दीवाना बना दिया रीते दिल को देखो महखाना [...]

वृक्ष

आनन फानन में मैं चली गई इक कानन में दृश्य सुन्दर, पवन संगीत [...]

बेटियाँ

आकांक्षाओं के पंख फैलाये बेटियाँ मन भाएं कामनाएं जब पूरी हो [...]

गाहे-बगाहे

अनुबंध में बंध कुछ चाहे कुछ अनचाहे झेलने पड़ते वे सभी गाहे - [...]

कलम अलबेली

कलम अलबेली मेरी सहेली, साथ सदा रहती मेरे दिल की ये धड़कन इसे हर [...]

जोड़-तोड़

जोड़-तोड़, कर जुगाड़, संवार बिगाड़ यही संसार शैशव में शिशु भी करता [...]

मन बांधे कब बंधा

मन बांधे से न बंधा, ऊँची उड़े उड़ान बाँधा जिसने है इसे, वो ही [...]

खुदा का नूर

मुकद्दर से पराजित हो बहुत मजबूर होते है तड़पते आह भरते प्यार [...]

हनुमंत

संकट मोचन हनुमंत, शत शत तुझे प्रणाम श्रद्धा से ध्याऊँ तुझे, [...]