साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: Dr. Seema Agrawal

Dr. Seema Agrawal
Posts 8
Total Views 113

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

कहाँ गए मेरे दिन वे सुनहरे….

कहाँ गए मेरे दिन वे सुनहरे ! संबंध सुखों से जब थे गहरे ! [...]

तुम हो चाँद गगन के…..

मनमोहक ये छवि तुम्हारी इस मन में बसा ली है ! पल पल जपता नाम [...]

अपनी जमीं पर…..

आसमां-सा ऊँचा उठकर झिलमिल सपनों में खो जाऊँ ! अपनों की ही [...]

तेरी शुभ्र धवल मुसकान

मेरे गम के तम पर तेरी, शुभ्र धवल मुस्कान ! चाँदनी बिखर जाती है, [...]

तेरी- मेरी एक कहानी

तेरी-मेरी एक कहानी --- विरह की देखो तोप दगी है दिल में बादल के [...]

तेरे बिना

दिल कहीं न लागे तेरे बिना ! सुख सुख ना लागे तेरे बिना !! अब [...]

मन मेरे तू सावन सा बन

मन मेरे तू सावन-सा बन ! मृदुल मधुर भावों से अपने कर दे जग को [...]

500 और 1000 के नोट बंद होने पर –

कैसी विवशता आई, खुल गयी भरी तिजोरी पाई- पाई निकल गयी जोड़ी जो [...]