साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: Sahib Khan

Sahib Khan
Posts 37
Total Views 291

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

तुम

तेरा हिजाब मेरा कफ़न न हो जाये, इस तरह प्यार दफ़न न हो जाये, तू [...]

तेरी तस्वीर

यूँ ही बेख़याली में कलम उठाई थी , होश आया तो तेरी तस्वीर बन गई [...]

जबसे मुझे तुमसे प्यार हो गया

जबसे मुझे तुमसे प्यार हो गया, रह-ए-दुनिया पे चलना दुस्वार हो [...]

नए साल में

जां मेरी ले आना नए साल में, फिर छोड़ न जाना नए साल में, अरे यार ! [...]

ऐ फरेब-ए-दिल एक मशवरा कर दे,

ऐ फरेब-ए-दिल एक मशवरा कर दे, तू उसके खयालो को रवाना कर दे, गर [...]

चले आओ

फिर फहफिल सजाए चले आओ, किसी से दिल लगाये चले आओ, नफरतो में [...]

तेरी अदाओ के आसमान पर,

तेरी अदाओ के आसमान पर, मेरी ग़ज़लो का एक मुकाम है, तेरी अदा है [...]

तुम गर साथ होती…………

वो तन्हाई के लम्हे, वो बेखुदी की राते, यु न गुजरती, तुम गर साथ [...]

कितनी नादां है वो जो मुझे भुलाना चाहती है,

कितनी नादां है वो जो मुझे भुलाना चाहती है, कहती है......... मैं खुश [...]

मैंने तुझे भुला दिया………..

मैंने तुझे भुला दिया............... आँखों ने तेरी तस्वीर न [...]

-: आपका इंतज़ार है हमको :-

आपका इंतज़ार है हमको, आपसे प्यार है हमको, आप आयेंगे किसी रोज़ [...]

-: मेरे महबूब तुम सदा मुस्कुराना :-

मेरे महबूब मुझे न भुलाना, ख़ुशी हो या गम सदा मुस्कुराना, उस [...]

राहे उल्फत के इंतजार कोई करता है,

राहे उल्फत के इंतजार कोई करता है, ज़रा सुनो ! तुम्हे प्यार कोई [...]

तुम्हारी याद सारी रात तडपाएगी,

तुम्हारी याद सारी रात तडपाएगी, लगता है सारी रात नींद नहीं [...]

-: राज़-ए-मुश्कान :-

तुम्हारी नजरो की कसम, तुमपे फ़िदा हूँ मैं, लाख करू कोशिश विसाल [...]

-: तलाश :-

बड़ी शिद्दत से लिख रहा हूँ, तेरे इन ख्यालो को, शायद कोई जवाब [...]

“ बयान-ए-नज़र “

ऊपर वाले का जरा नाम ले, दिल अपना भी जरा थाम ले, देखे नहीं जाते [...]

यही तो इश्क़ का दस्तूर है,

मैं जनता हूँ तू मुझसे दूर है, यही तो इश्क़ का दस्तूर है, लैला [...]

प्यार में भीगे दिन, मैं कभी ना भुलाऊँगा,

प्यार में भीगे दिन, मैं कभी ना भुलाऊँगा, तू भूल जा बेशक, मैं [...]

‘’ आवाज़-ए-दिल ’’

दिल मेरा न तोड़ो ज़माने की बात मानकर, हमसे महोब्बत करो दिल की [...]

मैं लिखता हूँ तुम्हारी खातिर,

मैं लिखता हूँ तुम्हारी खातिर, तुम जान हो मेरी, मैं शायर हूँ [...]

” काश कोई होती “

दिल कभी कभी यू सोचता है, काश कोई होती.................. जिसकी गली से हम [...]

हाय!! ये पायल की झंकार………

हाय!! ये पायल की झंकार............ तेरी पायल की छम-छम, मेरे ख्वाब [...]

तेरी हर अदा पर,

तेरी हर अदा पर, सौ बार जिया, मरा हूँ मैं, तुझे क्या कहूँ कैसे, [...]

“ऐ ज़िंदगी मैं तुझसे बड़ा नाराज़ हूँ”

तूने मेरे दामन को दर्द से भर दिया, अश्कों से आँखों को भर [...]

“इश्क़ परवाने का”

एक रोज़ शमा पूछबैठी परवाने से, क्या तुम्हें डर नहीं लगता जल [...]

“दिलनशी तुम ना होते”

चाँद ना यू शरमाता, गुलो पे भवरा ना यू मंडराता, अगर दिल नशी [...]

“तेरे शहर में“

तेरी याद फिर खींच लाई, मुझे तेरे शहर में कैसे जिए तेरे बिना, [...]

कहाँ से शुरू करू , कहाँ करू तमाम,

कहां से शुरू करूं,कहां करूं तमाम,कहानी उसकी, दिल के जख्मों को [...]

रुस्वाई हो जिसमे

रुसवाई हो जिसमें, क्यों वो बात करें, वशल ही ना हो मुकद्दर [...]