साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: सदानन्द कुमार

सदानन्द कुमार
Posts 8
Total Views 715
मै सदानन्द, समस्तीपुर बिहार से रूचिवश, संग्रहणीय साहित्य का दास हूँ यदि हल्का लगूं तो अनुज समझ कर क्षमा करे Whts app 9534730777

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

तिरंगा मेरा अभिराम रहे

कुर्बान सदा तिरंगे पर मै भी ,, कौंध शौर्य सपूतो से ,, तिरंगा [...]

जगत रचयिता पूछ रहा है ,, बोलो युवा कौन हो तुम

जगत रचयिता पूछ रहा है बोलो युवा कौन हो तुम ,,,, शांत जल की [...]

वर्ण व्यंजन मे तुमको लिखना ,, क्या कोई बेईमानी होगी

वर्ण व्यंजन मे तुमको लिखना ~~~~ क्या कोई बेईमानी होगी ~~~~ मेरा [...]

जूते भी सिलता है बचपन

ठण्डी पटकन पर ठहरा बचपन शहर चौराहे बैठा बचपन पूछे ,, जूते [...]

कब तक देखे भारत , शहीदो के क्षत विक्षत शव

कब तक देखे भारत शहीदो के क्षत विक्षत शव गीदड़ हृदयी पीश्शू [...]

कहिए, कितने सुखी है आप

सम्मुख करू प्रस्तुत, एक प्रश्न मै आज किस माथे है मानव का [...]

भऊजी का मयका पाकिस्तान 😃

पहली बार भईया,, ससूराली टूर हो आए किस्सा खोल हम को बतलाए सून [...]

याद हो तुम्हे, पूछा था तूमने

जमाने बाद तुम्हारे एक प्रशन का उत्तर दे रहा हूँ अब याद हो [...]