साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: राम केश मिश्र

राम केश मिश्र
Posts 43
Total Views 599
राम केश मिश्र मैं भदैयां ,सुल्तानपुर ,उत्तर प्रदेश से हूँ । मैं ग़ज़ल लेखन के साथ साथ कविता , नवगीत, दोहे हाइकू, पिरामिड ,कुण्डलिया,आदि लिखता रहा हूं । FB-- https ://m.facebook.com/mishraramkesh मेरा ब्लॉग-gajalsahil@blogspot.com Email-ramkeshmishra@gmail.com Mob--9125562266 धन्यवाद ।।

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

नेता।

नेता। नेता नेता न रहे,,,,,,,,,,,रहा न वो जज्बात । राजनीति मे ढह [...]

बसन्त के फूल

फूल।पुष्प।प्रसून । सरसों उमड़ी खेत में, ,,,खिले बसन्ती फूल । [...]

ईर्ष्या

दोहे।ईर्ष्या। ईर्ष्या दुख की बावली,,,,,,,जो उर रखो सजोय । मान [...]

मतदान

।मतदान। नेता निर्छल कर्मठी,, योगी सरस् सुजान । देश गांव [...]

मित्र।

दोहे।। मित्र । जग में सच्चे मित्र से,,,,,,,,,,,मिलिए बारम्बार ।। [...]

गीत।दो दिन पहले और किसी से ।

*दो दिन पहले और किसी से ।* जबसे देखी सूरत तेरी जब से मिली [...]

फिर तीन दोहे।

फिर तीन दोहे - मन को पावन राखिये, तन सा निर्मल आप । धन का [...]

वो तीन दोहे।

वो तीन दोहे-- रहे सजगता कर्म में ,,,,,भाव रहे निष्काम [...]

नवगीत।अफवाहें उड़ती रहतीं है।।

नवगीत।अफवाहें उड़ती रहती है । इस जीवन में सत्कर्मो का सदा [...]

ग़ज़ल।लौटा हूं मुहब्बत की दवा लेकर।

ग़ज़ल।।लौटा हूं मुहब्बत की दवा लेकर।। जफ़ा ग़मगीन महफ़िल से [...]

ग़ज़ल।बस बेवफ़ाई प्यार में।

ग़ज़ल।। बस बेवफ़ाई प्यार में । मुश्किलों से मिल यहां पाती [...]

ग़ज़ल।मौत भी अपमान की।

ग़ज़ल।मौत भी अपमान की ।। खिल्लियां उड़ने लगी है ऐ खुदा ईमान [...]

ग़ज़ल।मुहब्बत जब नजऱ आती ।

ग़ज़ल।। मुहब्बत जब नज़र आती ।। गवाही बेवज़ह निकली जमानत जब [...]

ग़ज़ल।बिंदास है कुहरा।

ग़ज़ल।विंदास है कुहरा। आलम ठंडी का आसपास है कुहरा । अपनी इस [...]

ग़ज़ल।ख्वाहिशें तमाम न थी ।

ग़ज़ल ।। ख्वाहिशें तमाम न थी ।। जिंदगी थी रेत सी बन्दिसे तमाम [...]

तब खुद को मैंने समझाया ।

नवगीत।तब खुद को मैंने समझाया।। यह जीवन है इक पगड़न्ड़ी काली [...]

नेता।कुण्डलिया

नेता नेता हमको चाहिए,,,,,,,कर्मठ सुधी समूल । जनता की दुविधा [...]

पीली सरसों

पीली सरसों बिहँस उठी पंख पसार कर पीली सरसों इठलातीं है [...]

वो आठ दोहे ।

जीवन नौका जग जलधि, आशा की पतवार । भांप भवँर में डगमगी, ,,,,,,,चुप [...]

यह पहली तस्वीर तुम्हारी ।।

नवगीत।यह पहली तस्वीर तुम्हारी।। इन पलकों को छावों में [...]

ख्वाहिशें तमाम न थी ।

ग़ज़ल ।। ख्वाहिशें तमाम न थी ।। जिंदगी थी रेत सी बन्दिसे तमाम [...]

नवगीत।बेटी घर की सुंदरता है ।

नवगीत।। बेटी घर की सुंदरता है ।। (बेटियां) ईश्वर की अनुपम [...]

नवगीत।मानव आदमखोर हो गया।

नवगीत। मानव आदमखोर हो गया ।। झूठा लम्पट बन रहा, लूटे देश [...]

तेवरी। नोट के बदलते तेवर।

तेवरी ।नोट के बदले तेवर ।। राजनीति है झूठ की । आँधी आयी लूट [...]

ग़ज़ल।मुहब्बत वो नही होती।

ग़ज़ल। मुहब्बत वो नही होती ।। वफ़ा में इश्क़ में बंदिश इनायत वो [...]

ग़ज़ल।मुहब्बत आप करते हो ।

ग़ज़ल।मुहब्बत आप करते हो।। यकीं माने तो क्यों माने मुहब्बत [...]

जय हो (कविता)

।।जय हो (कविता)।। भारत माता की सेवा में जिसने सब कुछ त्यागा [...]

ग़ज़ल।शिक़ायत अब नही होती।

ग़ज़ल।शिक़ायत अब नही होती ।। वफ़ा के नाम पर बिल्कुल नफ़ासत अब [...]

ग़ज़ल।क्यों ज़मीं से आस्मां मिलता नही ।

ग़ज़ल।क्यों ज़मीं से आस्मां मिलता नही । दूरियों का जख़्म अब [...]

ग़ज़ल।करे जज़्बात की ख़िदमत वही इंसान होता है ।

ग़ज़ल। करे जज़्बात की खिदमत वही इंसान होता है ।। लगाकर तोड़ [...]