साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: Pritam Rathaur

Pritam Rathaur
Posts 34
Total Views 91
मैं रामस्वरूप राठौर "प्रीतम" S/o श्री हरीराम निवासी मो०- तिलकनगर पो०- भिनगा जनपद-श्रावस्ती। गीत कविता ग़ज़ल आदि का लेखक । मुख्य कार्य :- Direction, management & Princpalship of जय गुरूदेव आरती विद्या मन्दिर रेहली । मानव धर्म सर्वोच्च धर्म है मानवता की सेवा सबसे बड़ी सेवा है। सर्वोच्च पूजा जीवों से प्रेम करना ।

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

भूख मुफलिस की अब मिटानी है

उम्र भर ----रखनी सावधानी है आंख तुमसे नही --------लड़ानी है जान [...]

झूठी तारीफ मैं नही करता

बाग में खिलती रात रानी है जिसके दम से फिजां सुहानी है भूख [...]

शेर

(1) कितनी नफ़रत थी बुलंदी से उनको परिंदे को पकड़ा और पर क़तर [...]

शेर

(1) आएगी एक दिन वो मेरे ख़ाबों की मल्लिका ये सोच कर तमाम उम्र [...]

शेर

क्यूँ नफ़रत के बीज दिल में बोया है आपने हमें अश्कों के समंदर [...]

मुक्तक

क़तआ ******* मेरे जीवन पर तेरा अधिकार है तेरे क़दमों में [...]

प्यार का सौदा

प्यार का सौदा बड़ा मंहगा हुआ है आज़कल देखता हूँ मैं जिसे वो [...]

नाज़ हुस्न पे न कर

नाज़ हुस्न पे न कर एक दिन ये ढल जाये ये तो ऐसा मौसम है पल में [...]

अंजामे मुहब्बत

मिलता है है मुफ़लिसी में सहारा कभी-कभी किस्मत का है चमकता [...]

बेटियों का महत्व

मेहंदी रोली कंगन का सिँगार नही होता''' रक्षा बँधन भईया दूज का [...]

तितली की झुंड मेरे मन को लुभा गई

मौसम बसंती आया हरियाली छा गई दुलहन बनी जमीं है सिंगार पा गई [...]

कान दीवारों के होते हैं

बीज वफ़ा के तू बोया कर देख ग़मों को मत रोया कर बहुत अहम हैं [...]

एक मुद्दत की प्यास बुझ जाए

वज़्न -- 2122 - 1212-- 22 अर्कान-- फाइलातुन मुफाइलुन फेलुन ~~~~~~~~~~~~ ग़ज़ल [...]

आज सखी होली है

%%%%%%%%%%%%% 🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷 प्रेम के रंग उड़ाओ आज़ सखी होली [...]

होली

होली 🔥की आप सबको हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं [...]

फूल खारों में मुस्कुराते हैं

आप ख़ाबों में जब भी आते हैं । सोनेे देते नही सताते हैं [...]

करता है जो मुहब्बत बदनाम ही तो है

नज़रें हया से झुकना ये सलाम ही तो है करता है जो मुहब्बत बदनाम [...]

मित्रता

देख सुदामा की दशा रोने लगे थे कृष्ण अश्रु के जल से कदम धोने [...]

सरदार भगत सिंह जी

आज़ सरदार जो सूली पे न चढ़ा होता देखिये हाल न फिर देश का [...]

शहीदे आज़म भगत सिंह जी की पुण्य तिथि पर

वीरों में वो महान थे सरदार भगत सिंह जी भारत की आन बान थे [...]

यादों के झरोखे से

🌺🌺🌺🌺🌺 तामीर के रौशन चेहरे पर तख़रीब का बादल फैल गया । आमद [...]

मुल्क़ आज़ाद चाहता हूँ

वज़्न 2122-- 1212-- 22( 112) --------------------------- आज रब ---से ये मांगता हूँ [...]

कैसी फितरत इंसान की

आज देखी इंसां में कैसी ये ज़हालत है इनकी कौमे इंसां से आज [...]

कभी कली पे भी हुस्नो ज़माल आएगा

उरुज आज है तो कल ज़वाल आएगा अगर माँ बाप को घर से निकाल [...]

हिना

बन गया खूने जिगर रंगे हिना है दिखाया क्या असर रंगे हिना [...]

हर तमन्ना अज़ाब लगती है

जिन्दगी अब खराब लगती है बिन तुम्हारे अज़ाब लगती है करके [...]

बाबा साहेब डा० भीम राव अम्बेडकर के श्री चरणों में समर्पित चार पंक्तियाँ

बाबा साहेब के शुभ जन्मदिवस पर चार पंक्तियाँ समर्पित देश जब [...]

आने – जाने पे वो सबपे नज़र रखती है

आने - जाने पे वो सबपे नज़र रखती है किसके दिल में है क्या ये [...]

उम्मीद के तुम न दीपक बुझाओ

🌹 उम्मीद के तुम न दीपक बुझाओ 🌹ऐ आँधियों तुम कहीं और [...]

बिखरते बिखरते सँवरने लगी वो

बिखरते - बिखरते सँवरने लगी वो कि बन कर के खुश्बू महकने लगी [...]