साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: Pooja Singh

Pooja Singh
Posts 17
Total Views 334
I m working as an engineer in software company .I m fond of writing poems .

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

ओछी राजनीती

"अफ़सोस है की हम इतने बेशर्म हो गए भारतीय होने से पहले हिन्दू [...]

माँ अम्बे

"मदद करो हे माँ आंबे ,ध्यान धरु तेरा आंबे शेरावाली माँ आंबे [...]

सेना पे राजनीती

"देश है महान अपना ,शौर्यता की खान है , इस धरा पे चमकते सूर्य के [...]

पत्थरबाजों की सेना

"पत्थरबाजों की सेना तुम , कान खोलकर सुन लो आज ! काश्मीर [...]

पाकिस्तान को ललकार

"बर्बरता की हदें पार करने वाले ओ पाकिस्तान , कायरता में [...]

बिखरता देश

"क्रुद्ध हूँ मै आज देख के देश को , धर्म के नाम पे बांटते [...]

नारी अबला नहीं

"बचपन से सुनते आये हैं , भारत में नारी की पूजा होती है ! हर [...]

मोदी एक क्रांति

"देश का नेता कैसा हो ? नरेंद्र मोदी जैसा हो ! जोशीले भाषण जो [...]

“देश का अपमान अब और नहीं “

"राजनीती की लालच में तुमने , शर्म गवां दी इस हद तक ! की आये [...]

भूल न जाना देश उन्हें

"भूल न जाना देश उन्हें , जो मर कर भी हैं अमर हुए सरहद की हिफाजत [...]

उजड़ते चमन को कोई रोके ले

उजड़ते चमन को कोई रोके ले , बिखरते वतन को कोई थाम ले ! शहीदों की [...]

बच्चे थे तो अच्छे थे

"बच्चे थे तो अच्छे थे , जब दिल खोल के जी तो लेते थे रो रो कर भी [...]

एक विचार आया था मन में

"एक विचार आया था मन में , हमने क्या किया जीवन में, भूल गए वीरों [...]

देश के जवान तुम वीर हो महान हो

"देश के जवान तुम वीर हो महान हो , स्वतंत्रता के लाज तुम शौर्य [...]

गजब का देश

"गजब का देश और , गजब के लोग हैं पूजते क्रिकेट को हैं और [...]

मत देश सुनो तुम आज उनकी

"मत देश सुनो तुम आज उनकी जमीर बची न जिनमे जरा सी भी , सत्ता के [...]

एक नसीहत चंद लोगों के नाम

"जो लोग समझते हैं देश मेरा , रहने के लायक नहीं रहा उनके लिए [...]