साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: Pawan Paagal

Pawan Paagal
Posts 2
Total Views 9

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

आरक्षण

अपनी रक्षा तू खुद कर दूजा निर्बल कर सकता है ..... मत ले वैसाखी [...]

चुनाव आयौ है …….

मचे जो खूब हल्ला निकल आएें दल्ला समझ लीजै लल्ला चुनाव आयौ [...]