साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: Onika Setia

Onika Setia
Posts 29
Total Views 1,349
नाम -- सौ .ओनिका सेतिआ "अनु' आयु -- ४७ वर्ष , शिक्षा -- स्नातकोत्तर। विधा -- ग़ज़ल, कविता , लेख , शेर ,मुक्तक, लघु-कथा , कहानी इत्यादि . संप्रति- फेसबुक , लिंक्ड-इन , दैनिक जागरण का जागरण -जंक्शन ब्लॉग, स्वयं द्वारा रचित चेतना ब्लॉग , और समय-समय पर पत्र-पत्रिकाओं हेतु लेखन -कार्य , आकाशवाणी इंदौर केंद्र से कविताओं का प्रसारण .

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

समागम (कविता )

एक नूर से है सारा जग रौशन, इस पृथ्वी का प्रत्येक [...]

”वह ”(कविता)

वह है मेरी आँखों में, इस तरह क़ैद। मेरे आंसुओं के हर [...]

देश के नाम चार शेर

१, ऐ वतन ! मुझे तुम पर नाज़ है , की तुम्हारी सर ज़मीं पर [...]

कारवां जिंदगी का … (मुक्तक )

हजारों कारवां आयेंगे जिंदगी में, एक कारवां छूट गया [...]

पीड़ा भावना की … (कविता)

मानव ह्रदय में वास करती थी कभी , प्रेम,त्याग ,करुणा व् [...]

मेरे श्रद्धेय (कविता )

मेरे श्रद्धेय ! मेरे आदरणीय ! तुम पर [...]

यामिनी (कविता)

काले आँचल पर , चमकते ज्यों सितारेे। [...]

मेरा जीवन (कविता)

मेरा जीवन (कविता) यह जीवन भी कोई जीवन [...]

मृत्यु -सुंदरी (कविता)

मृत्यु सुंदरी (कविता) हे मुक्ति की देवी !हे [...]

मुझे जीना सीखा दो ज़रा ( ग़ज़ल)

मुझे जीना सीखा दो ज़रा ( ग़ज़ल) मैने कभी नहीं [...]

कोई तो आये ….( कविता)

कोई तो आये ....( कविता) [...]

कलाम-ऐ-दर्द (ग़ज़ल )

कलाम-ऐ-दर्द कितनी शिद्दत से करते हैं तुमसे प्यार, [...]

मुहोबत : ख्वाब या हकीक़त (ग़ज़ल )

मुहोबत : ख्वाब या हकीक़त (ग़ज़ल ) ऐ [...]

मुक्ति (कविता)

ऐ मेरे पंछी!, उड़ जा तू इस, पिंजरे [...]

व्यथा (कविता)

मेरे ह्रदय में उठता, प्रेम का अथाह आवेगें। [...]

कुछ मत पूछो ! (ग़ज़ल)

मत पूछो की कितने ज़ख्म खाए हुए हैं , हम तो दौर -ऐ- हालात के [...]

प्रयास (कविता)

जाने कितनी बार, प्रयास किया मैनेें। की मैं अपने जीवन [...]

विश्वास (कविता)

विश्वास पर ही हे प्रभु !, यह दुनिया है टिकी। [...]

दीवानगी (कविता)

तू देख ज़रा मेरी दीवानगी, किस तरह सज-संवर कर [...]

बिरहन (कविता)

थकित पग और, शिथिल ,क्षीण काया। [...]

काव्य का जन्म ( कविता)

काव्य का जन्म (कविता) कौन देखता है?, [...]

कुछ शेर मुहोबत के नाम

कुछ शेर मुहोबत के नाम १, क्या लुत्फ़ हो उस मौत का [...]

दो लघु कवितायेँ

दो लघु-कवितायेँ १, यह दुनिया एक धोखा है, [...]

अकेली (कविता)

अकेली (कविता) नयन मेरे सूने रहे, अधरों पर [...]

मृत्यु के पद चिन्ह ( कविता)

मृत्यु के पद-चिन्ह (कविता) कैसी नीरवता छाई है [...]

दो शेर

दो शेर १, गुल -ऐ- शौक में कांटे आये हाथ, कितना [...]

पश्चाताप ( कविता)

पश्चाताप (कविता) एक दिन सोचा मैनेें, एकांत में [...]

बेटियों की हाय (कविता)

बेटिओंकी हाय (कविता) सितम से हार कर जब, लब हो [...]

स्वतंत्रता की अभिलाषा (कविता)

स्वतंत्रता की चाह सोचती हूँ मैं कभी एकांत में, [...]