साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: Neelam Ji

Neelam Ji
Posts 43
Total Views 9,351
मकसद है मेरा कुछ कर गुजर जाना । मंजिल मिलेगी कब ये मैंने नहीं जाना ।। तब तक अपने ना सही ... । दुनिया के ही कुछ काम आना ।।

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

गीत (2 Posts)


क्या तुमको हमसे प्यार नहीं ?

💑💑💑💑💑💑💑 हमें तुमसे प्यार कितना तेरा इंतजार कितना तुमको [...]

*हंसते रहो हंसाते रहो,गीत ख़ुशी के गाते रहो *

हंसते रहो हंसाते रहो ... गीत ख़ुशी के गाते रहो ... सुख दुःख आने [...]