साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: Neelam Sharma

Neelam Sharma
Posts 230
Total Views 2,347

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

अन्य (16 Posts)


निकलता है

सुन, हृदय हुआ जाता है मृत्यु शैय्या, नित स्वप्न का दम निकलता [...]

कविता

सनम ग़म बहुत हैं दर्द-ए-दिल में रहती है सुनो टीस बहुत, है आह [...]

अनुप्रास अलंकार

सादर प्रेषित हर पल घटता झीना झरना सम, जीवन जल है। शनै:शनै: [...]

मुक्तक

18/12/16 न रास्ता मालूम है हमको और न मंजिल का ठिकाना है न जाने [...]

गज़ल

आसान नहीं है सहना दिल की पीर अक्सर दिल हो ही जाता है अधीर [...]

आफताब

वो आफताब है महफिल का उसे चमकने दो यारों वो माहताब है दिल का [...]

तन्हाई

फिर वो भूली सी याद आई है जाग उठी फिर मेरी तन्हाई है है बहुत [...]

वक्त

वक्त वक्त बर्बाद करना ही, जिंदगी बर्बाद करना है लिया है [...]

दरमियां

उन्वान- दरमियां......। हर रोज़ न सही मगर कभी कभी दरमियां तेरे [...]

धागे

धागे मजबूत डोर होते हैं, अनमोल रिश्तों के धागे। कभी भी जो [...]

तस्वीर

तस्वीर खींचकर कुछ आड़ी तिरछी लकीरें इक दिन कोरे कागज [...]

दीवारों के कान।

दीवारों के कान। निंदा करना छिपकर सुनना,इंसानों का [...]

प्रेम

प्रेम विद्या- छंद मुक्त तेरे हृदय प्रेम का प्याला, अब तक [...]

शब्द

छंद मुक्त रचना विषय-शब्द शब्द असीम भाव हैं, नहीं हैं माना [...]

संस्मरण

अलौकिक संस्मरण......। मीठी सी यादों का मैं लाई हूं आवरण [...]

सिंदूरी शाम

सिंदूरी शाम थककर है आया देख सूरज सांझ की बांहों में, शर्म [...]