साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: MONIKA MASOOM

MONIKA MASOOM
Posts 8
Total Views 150

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

“मासूम” घर आँधी ने उजाड़ा नहीं कभी

सीने में आइने के तु झांका नहीं कभी इसने भी राज़े दिल कोई खोला [...]

आप अपने बड़े किरदार संभाले रखिये

जीस्त कर के ये धुआं, हाथ उजाले रखिये दीप छोटा सही पर राह में [...]

बिटिया रानी

बिटिया मेरी,रानी बन पढ.,लिख,सुघड़ सियानी बन ज्योत नहीं मेरे [...]

पिता

पिता जीवन की शक्ति है,जन्म की प्रथम अभिव्यक्ति है, पिता है [...]

मुक्तक

हुनर उनको जीने का आया नहीं है अदब से जो ये सिर झुकाया नहीं [...]

“रब बदल गया”

जब चाहा जी तब बदल गया थोङा सा नहीं सब बदल गया ढब बदला तूने [...]

मैं हूँ ज़िंदा तुझे एहसास कराऊं कैसे

धङकनें मैं तेरे कानों को सुनाऊं कैसे बंदिशें तोङ तेरे सामने [...]

दुल्हन अभी नई हूं मैं

शीश से पाँव तलक, जंजीर से बंधी हूं मैं फिर भी हो खुश ये कहूं, [...]