साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: milan bhatnagar

milan bhatnagar
Posts 17
Total Views 161
बाल्यकाल से ही कविता, गीत, ग़ज़ल, और छंद रहित आधुनिक कविताएँ लिखना मेरा शौक रहा है कुछ गीतों को स्वर भी दिया गया है ! "गज़ल गीतिका" मेरा सम्पूर्ण संग्रह है

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

कब बताता है

चेहरे का हर भाव किया वादा कब बताता है कितना दर्द है दिल में [...]

बहार ही बहार

" बहार ही बहार " खिल रहे हैं फूल यहाँ डाल डाल पर, आज है बहार ही [...]

आस्तीनों में

सांप आस्तीनों में पल न पायेंगे हमारे दुश्मन हमें छल न [...]

पहली पहली बार

यादों में वो लम्हे बसे हों पहली पहली बार राहों में हम तुम [...]

सफीना

क्यों ग़मों मे बशर डूबता जा रहा है फासला इंसानों में बढ़ता जा [...]

शायराना

शहरे मौसम बड़ा आशिकाना हुआ दिल मेरा कुछ पागल दीवाना हुआ घर [...]

हवा

सुलगती आग को और भड़का देगी हवा धुँआ बहुत दूर तक उड़ा ले जायेगी [...]

याद आई है मुझे

वस्लो-फुर्कत की हर रात याद आई है मुझे याद किया है तो हर बात [...]

इम्तेहान में पास कर (विनती)

हे प्रभु, इस दास की इतनी विनय सुन लिजिये, मार ठोकर नाव मेरी [...]

न वो रात सवांरा करे

न वो रात सवारा करे कोई चाँद से कह तो दे, न वो रात सवारा करे, वो [...]

मिलन ऋतु

मिलन ऋतु आयी दीवानी बरसात, भीगी भीगी हो गयी, बौराया मौसम, छू [...]

तुम मेरी कविता हो

मेरे हर शब्द की, अपनी, एक अलग कहानी है, मेरे दर्द की, अपनी, एक [...]

सोने की चिड़िया

एक रंग बिरंगी, आकर्षक,बहुत निराली थी चिड़िया, तिनका तिनका तोड़ [...]

बकलोल

"बकलोल" खून के रिश्ते बहुत अनमोल होते हैं सियासत में यहाँ पे [...]

गुंजाइश

तू साथ है तो ज़िन्दगी भी ख्वाइश है वरना ये महफिल तो एक नुमाइश [...]

कृतिम ज़िन्दगी

मैं मौत नहीं, मैं जीवन हूँ, ज़िन्दगी के बोझ से, बुझा बुझा सा [...]

मिलन

साहित्यपीडिया पर मेरे मिलन का एहसास, मेरी पहली रचना जो १९६५ [...]