साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: Manas mishra

Manas mishra
Posts 8
Total Views 112
A poet by birth...A CA by profession...

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

इल्तजा

ज़िंदगी ज़िंदादिली का नाम है रंज करना बुज़दिलों का काम है [...]

राधा श्याम

हमारे साथ में अब तुम गगन के पार आ जाओ तुम्हारे द्वार हम आयें [...]

मुक्तक

हमारी प्यास का ये अब खुला समर्पण है हमारे पास था जो सब [...]

मुक्तक

सुखन के नाम से ही बज़्म की रवानी है सुखन के नाम से ही आशिकों [...]

मुक्तक

गमों की आँच में हम गीत लिख नहीं पाए मिले जो आपसे वो प्रीत लिख [...]

मुक्तक

गमों के खेत में जो हौंसलों कि डाली है इसी ने उस खुदा की बन्दगी [...]

मुक्तक

जो चरागों से रौशन दुआरे रहे वो हमारे नहीं वो तुम्हारे [...]

मुक्तक

चिराग जल रहें हैं रोशनी की ख्वाहिश में किसी को क्या पता है [...]