साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: मंजूषा मन

मंजूषा मन
Posts 3
Total Views 15
मन के भावों की अभिव्यक्ति ही कविता है...

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

हाइकु

1. भूल जाना तो सरल है बहुत कठिन यादें। 2. छल करना कभी आया ही [...]

सर पे कैसी मुसीबत बड़ी आ गई

ग़ज़ल सर पे कैसी मुसीबत बड़ी आ गई। देखिये फैसले की घड़ी आ [...]

कायर

कायर कायर होते हैं वे लोग जो चाहते तो हैं कहलाना किसी का [...]